भूपेंद्रसिंह गौर, झाबुआ। आजादी का महोत्सव के तहत जिला स्तरीय स्वास्थ्य शिविर का आयोजन स्थानीय उत्कृष्ट विद्यालय खेल मैदान पर किया गया। उद्देश्य था जिले के मरीजों को हर प्रकार की जांच के साथ ही स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें, लेकिन आयोजन स्थल पर आशा कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के साथ ही एनजीओ के कार्यकर्ताओं को मरीजों को लाने की जवाबदारी दी गई। सुबह 11ः30 बजे तक कम भीड़ दिखाई दी। इसके बाद विभिन्ना वाहनों के माध्यम से मरीजों को खानापूर्ति के लिए शिविर स्थल पर लाया गया। विडंबना है कि शिविर के लिए लाखोंरुपये खर्च किए जाते हैं, लेकिन फायदा इक्का-दुक्का मरीजों को ही मिल पाता है।

दो दिवसीय यानी गुरुवार व शुक्रवार को जिले के अलावा अन्य शहरों से आने वाले मरीजों को स्वास्थ्य लाभ मिलें। इसी के तहत स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलेक्टर सोमेश मिश्रा, भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक के साथ ही अन्य पदाधिकारियों ने किया।

संख्या बढ़ाने के लिए दबाव

शिविर में संख्या बढ़ाने के लिए विभिन्ना स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को दबाव दिया गया था। सभी कार्यकर्ताओं को अपने-अपने विकासखंड से बड़ी संख्या में मरीजों को लाना होगा, ऐसे आदेश दिए गए थे। नाम ना छापने की शर्त पर कार्यकर्ताओं ने बताया कि हमेशा ऐसे शिविरों में टारगेट दिए जाते हैं। सही मरीजों को उपचार नहीं मिल पाता है। कई बार तो स्वास्थ्य व्यक्तियों को लेकर आना पड़ता है। हालांकि, हर व्यक्ति में कोई न कोई स्वास्थ्य समस्या सामने आ जाती है, इसलिए टारगेट पूरा हो जाता है।

लाखों खर्च नहीं मिलता फायदा

ऐसे शिविरों में लाखों रुपये खर्च कर दिए जाते हैं। बाहर से चिकित्सक भी अपनी सेवाएं देने आ जाते हैं। लेकिन इक्का-दुक्का ही गंभीर मरीज शिविर में पहुंच पाते हैं। मरीजों को कार्यकर्ता अपने वाहनों से लेकर आते हैं। उनका पंजीयन करवा कर फ्री अपनी उपस्थिति मरीजों के हिसाब से दर्ज करवा लेते हैं। कई कार्यकर्ताओं से चर्चा की गई तो उन्होंने अपनी समस्या को बताया, लेकिन नाम ना छापने की शर्त पर।

18 विशेषज्ञ दे रहे सेवा

शिविर में प्रदेश से बुलाए गए 18 विशेषज्ञ अपनी सेवाएं दे रहे हैं। कई स्टालों पर भीड़ दिखाई दी। लेकिन कई खाली पड़े रहे। शिविर सुबह 10 से चार बजे तक लग रहा है। शुक्रवार को भी शिविर लगेगा। शिविर में लगभग सभी बीमारियों का उपचार किया जा रहा है। निश्शुल्क औषधि का वितरण भी हो रहा है, लेकिन सवाल यह उठता है कि क्या जिन मरीजों को आवश्यकता है, उनको उपचार मिल पा रहा है। कई मरीज तो जिला अस्पताल के अलावा अपना उपचार निजी चिकित्सालय में करवाना पसंद कर रहे हैं।

मरीज मुझ से मिले

जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेपीएस ठाकुर ने बताया कि जिलेभर के मरीजों को बुलाया गया है। सभी विशेषज्ञ शिविर में उपस्थित है। कोई भी आकर उनसे मिलकर संपर्क कर सकता है। शिविर शुक्रवार को भी जारी रहेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close