झाबुआ। ब्यूरो

मंगलवार को बस यात्रा करना आसान नहीं होगा। नागरिकों को यात्रा करने में दिक्कतें आएंगी। वजह यह है कि इस दिन विभिन्न रूटों पर कम या बिल्कुल ही बस नहीं चलेंगी। अधिकांश बसें मंगलवार को आजादनगर में कार्यक्रम के लिए आरक्षित रहेंगी। वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा होना है। सभा में अधिक से अधिक भीड़ जुटाने के लिए इन बसों का उपयोग किया जाएगा। जिले के हर क्षेत्र से बसें मंगलवार को आजादनगर जाएंगी। बसें कम चलने से यात्रियों की फजीहत होना है।

प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी पहली बार इस क्षेत्र में आ रहे हैं। इसके लिए शहीद चंद्रशेखर आजाद की जन्म स्थली का चयन किया गया है। इसके माध्यम से भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ के साथ ही विश्व आदिवासी दिवस का जलसा भी मनाया जा रहा है। जिले में विधानसभावार अधिक से अधिक भीड़ मोदी की सभा में ले जाने के लिए प्रशासनिक व राजनीतिक स्तर पर व्यापक तैयारियां चल रही हैं।

जा सकती हैं 100 बसें

जिले से सभा के लिए 100 बसें भेजी जा सकती हैं। हालांकि शनिवार को यह आकलन लगातार चलता रहा। ये बसें रूट से हटाकर आजादनगर भेजी जाएंगी। बसों को सोमवार रात को ही अलग-अलग क्षेत्रों में भेज दिया जाएगा जहां से मंगलवार को वे भीड़ लेकर आजादनगर पहुंचेंगी।

यह है स्थिति

-140 यात्री बसें

-100 के लगभग जाएंगी आजादनगर

-यात्री बसें ही परिवहन के मुख्य साधन

-10 हजार से अधिक लोग करते हैं प्रतिदिन यात्र

-सोमवार से ही बसें लाइन से हटना आरंभ हो जाएंगी

आकलन चल रहा है

जिला परिवहन अधिकारी राजेश गुप्ता ने बताया कि आजादनगर भेजने के लिए बसों को लगाना है। शनिवार को यह आकलन किया जा रहा है कि कितनी बसों की आवश्यकता रहेगी। मंगलवार को बसें सभा समाप्त होने के बाद ही पुनः लौटेंगी।

Posted By: