थांदला (झाबुआ)। जवाहर नवोदय विद्यालय, थांदला की छठी की छात्रा को होमवर्क नहीं करने पर शिक्षक ने कक्षा की 14 छात्राओं से दो-दो थप्पड़ लगवाए। 6 दिन तक चली इस सजा में 168 थप्पड़ खाने से वह दहशत में है। उसके पिता जब प्राचार्य से शिकायत करने पहुंचे तो उन्होंने सामान्य बताते हुए स्कूल के नियमानुसार फ्रेंडली सजा बताया।

छात्रा अनुष्का के पिता शिवप्रताप सिंह ने इस बात की प्राचार्य के. सागर से लिखिति शिकायत की है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों अनुष्का बीमार हो गई थी। शासकीय अस्पताल में इलाज की पर्चियां भी उनके पास हैं। स्वस्थ होने पर 10 जनवरी को अनुष्का की मां उसे स्कूल छोड़ने गई।

स्कूल में विज्ञान के शिक्षक ने होमवर्क पूरा नहीं होने पर उक्त सजा सुना दी। उनके कहने पर कक्षा की 14 बालिकाओं ने 11 जनवरी से प्रतिदिन अनुष्का को दो-दो थप्पड़ लगाने शुरू किए। यह सजा 16 जनवरी तक चली। स्कूल में इस मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना से अनुष्का दहशत में है।

सामान्य मामला

जवाहर नवोदय विद्यालय के प्राचार्य के.सागर ने प्रताड़ना की बात से इंकार कर मामले को सामान्य माना है। उनका कहना था विद्यालयीन नियमों के तहत अध्यापक बच्चों को सजा नहीं दे सकते, इसलिए जिस विद्यार्थी से गलती हुई है, उसके साथी विद्यार्थी ही उसे थप्पड़ लगाकर सजा दे रहे हैं। इस व्यवस्था को फ्रेंडली सजा माना जाता है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan