झाबुआ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सितंबर माह में हुई बारिश के बाद बारिश का आंकड़ा औसत के आगे पहुंच गया। अब पिछले 8-10 दिनों से जिले में तेज बारिश का दौर नहीं चला है। आंकड़ा 857.05 मिमी पर आकर रुक गया है। इस वर्ष जिले के मेघनगर क्षेत्र में सबसे अधिक बारिश 1000 मिमी दर्ज हुई है। सबसे कम बारिश का आंकड़ा रामा केंद्र में 713 मिमी दर्ज हुआ है।

अगस्त माह की बारिश के बाद ऐसा लग रहा था कि जिले में बारिश का आंकड़ा औसत के करीब भी नहीं पहुंच पाएगा। लेकिन सितंबर माह में लगातार कभी तेज तो कभी धीमी बारिश से औसत से आगे बारिश का आंकड़ा निकल गया। जिले की औसत बारिश 773.04 मिमी तय की गई है। लेकिन जिले में अब तक 857.05 मिमी बारिश हो चुकी है। पिछले माह हुई बारिश से कई क्षेत्रों में फसलें भी प्रभावित हुई है।

केंद्र अब तक पिछले वर्ष अब तक

झाबुआ 787.04 1042.05

रामा 713.06 843.01

थांदला 818.02 1275.02

पेटलावद 881.07 956.05

रानापुर 940.00 760.00

मेघनगर 1005.00 1275.08

-जिले की अब तक की औसत वर्षा 857.05

-पिछले वर्ष अब तक की औसत वर्षा 1025.06

(आंकड़े भू-अभिलेख के अनुसार मिमी में)

रामा सबसे पीछे

आंकड़ों पर हम नजर डालें तो इस वर्ष सबसे कम बारिश रामा क्षेत्र में 713.06 मिमी बारिश हुई है। जबकि पिछले वर्ष 843.01 मिमी बारिश हो चुकी थी। सबसे अधिक बारिश 1005 मिमी मेघनगर केंद्र में दर्ज हुई है। जबकि पिछले वर्ष यहां 1276.08 बारिश हो चुकी थी। जिले के बाकी केंद्रों पर भी सामान्य वर्षा हुई है। किसानों का कहना है कि कई जलाशय अभी भी खाली पड़े हैं। तेज बारिश के बाद ही जलाशय लबालब हो सकते हैं। हालांकि कई जलाशयों में पानी आ जाने से किसान आने वाली रबी की फसल ले सकेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local