फोटो 1ए- सीवर लाइन का जारी काम।

-दूसरे चरण में हो पाएगा सीवर का काम

-25 की जगह 24 वार्डों में ही बिछाई जा सकी सीवर की लाइन

मुरैना। शहर के सघन आबादी वाले और करीब 1500 भवनों वाले वार्ड क्रमांक 11 में सीवर लाइन पहले चरण में डाली जानी थी। लेकिन मार्किंग के समय इस इलाके को इंडस्ट्रियल एरिया के तौर पर चि-ति कर दिया गया। जिसके चलते वार्ड का कुछ हिस्सा ही सीवर प्रोजेक्ट के पहले चरण में जोड़ा गया है। ऐसे में अब वार्ड 11 सहित निगम के शेष 23 वार्डों को योजना के दूसरे चरण का इंतजार करना होगा।

नगर निगम ने शहर के 25 वार्डों में पहले चरण की सीवर लाइन बिछाने की योजना बनाई थी। इस परियोजना पर निगम को 280 करोड़ रुपये खर्च करने थे, लेकिन वार्ड 11 के साथ ऐसी चूक हुई कि वार्ड 11 परियोजना में शामिल होने से रह गया। दरअसल जब प्रोजेक्ट की ड्राइंग तैयार हो रही थी तो वार्ड 11 के समीप इंडस्ट्रियल एरिया को वार्ड 11 की लोकेशन पर मार्क कर दिया गया। इससे ऐसा लगा कि वार्ड 11 इंडस्ट्रियल एरिया है। चूंकि यह प्रोजेक्ट आबादी क्षेत्रों के लिए था, इसलिए इस गलती के कारण वार्ड 11 प्रोजेक्ट से बाहर हो गया।

सिर्फ कृषि मंडी के पास वाला हिस्सा ही शामिल

सीवर प्रोजेक्ट में वार्ड 11 की सिर्फ 2 से 3 गलियां ही शामिल हो पाई हैं। बाकी हिस्से में सीवर का काम नहीं होगा। अधिकारियों की मानें तो निगम के बाकी बचे 23 वार्डों में दूसरे चरण में सीवर लाइन बिछेगी। इसकी लागत 150 करोड़ रुपये होगी, लेकिन इसकी प्रक्रिया कब शुरू होगी और यह काम कब तक पूरा होगा, इसका अनुमान किसी को नहीं है।

पहले चरण का 95 फीसद काम पूरा

सीवर प्रोजेक्ट के पहले चरण में 95 फीसद काम पूरा हो चुका है। इसके तहत 24 वार्डों में 145 किमी लंबी लाइनें बिछाई जा चुकी हैं। वहीं प्लॉट का काम भी 90 फीसद तक हो चुका है। निगम का दावा है कि दिसंबर तक पहला चरण समाप्त हो जाएगा।

साढ़े 26 हजार घरों को कनेक्शन देने का दावा

नगर निगम ने आयुक्त चंबल को भेजी एक रिपोर्ट में बताया है कि सीवर कंपनी ने 24 वार्डों के 26585 घरों को कनेक्शन दे दिए हैं। जबकि हकीकत यह है कि निगम कनेक्शन शुल्क वसूलने के लिए अभियान चला रहा है और लोग फिलहाल कनेक्शन लेने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं।

दिमनी और सुमावली विधानसभा के वार्ड शामिल नहीं

पहले चरण की परियोजना में दिमनी और सुमावली विधानसभा के वार्ड भी प्रोजेक्ट में शामिल नहीं किए गए हैं। सुमावली विधानसभा क्षेत्र में आने वाले निगम के 10 वार्ड, मुरैना विधानसभा के 9 वार्ड और दिमनी विधानसभा के 4 वार्डों को पहले चरण में नहीं लिया गया है। इन सभी वार्डों में दूसरे चरण में ही सीवर लाइन का काम होगा।

कथन

वार्ड 11 को भी दूसरे चरण के लिए रखा गया है। इसका कुछ हिस्सा पहले चरण में लिया गया है, जहां लाइन बिछाई गई है। बाकी बचे वार्डों में दूसरे चरण में लाइन बिछाई जाएगी। दूसरे चरण का प्रोजेक्ट 150 करोड़ का है। इसके अलग से टेंडर होंगे।

केके शर्मा, अधीक्षण यंत्री नगर निगम

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close