कटनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। केजी चौदहा फर्म में प्रशासन की कार्रवाई, दो अंडरग्राउंड टेंकर सील कर दिए। इसके अलावा पेट्रोल पंप से भी सैंपल लिए गए। खाद्य विभाग के इंस्पेक्टर पीयूष शुक्ला ने बताया कि ब्रजेंद्र मिश्रा के पेट्रोल पंप में मिला केरोसिन कहां से आया इसकी जांच में लगी है। इसी क्रम में शुक्रवार को कुठला पुलिस केजी चौदहा फर्म के रिकार्डों की जांच की।

इससे पहले पूर्व महापौर ब्रजेंद्र मिश्रा के पेट्रोल पंप पर रविवार को कार्रवाई की गई थी। वहीं पुलिस इस बात की जानकारी जुटाने में लगी है कि आखिर इतनी बड़ी मात्रा में नीला केरोसिन मिला है। आखिर यह नीला केरोसिन आया कहां से।

इससे पहले एसपी सुनील जैन ने बताया था कि केरोसिन कहां से आया पुलिस इसी बात की जांच में लगी है। बॉयोडीजल के मामले में पुलिस को राजस्थान के गंगापुर की पर्ची मिली है। यहां पर जांच के लिए पुलिस टीम भेजी गई है। वहीं यह बात भी कही जा रही है कि केरोसिन से पेट्रोलपंप का संबंध नहीं है लेकिन पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि आखिर यह यहां खड़े ही क्यों थे।

ये था मामला :

इससे पहले प्रशासन और पुलिस अधिकारियों ने पहरुआ स्थित पंप पर कार्रवाई की थी। इसमें करीब 1 करोड़ 10 लाख कीमत के केरोसीन, बॉयोडीजल सहित अन्य सामान जब्त किया गया है। अपर कलेक्टर रामानुस टोप्पो ने बताया कि जांच के दौरान एक टेंकर में 12 हजार लीटर डीजल, दूसरे टेंकर में 7500 लीटर व एक अन्य टेंकर में 150 लीटर कुल 19हजार 650लीटर नीला केरोसिन मिला। इसकी कीमत 20 लाख 90 हजार रूपये है। मामले में पुलिस जांच कर रही है कि नीला केरोसिन कहां से आया। इसी क्रम में शुक्रवार को कुठला पुलिस ने कार्रवाई की।

रिकार्ड मिलान कर रही पुलिस :

अधिकारियों ने बताया कि कि मेमर्स केजी चौदहा थोक डीलर हैं। इनके यहां रिकार्ड मिलान किया जा रहा है कि इन्होंने कहां-कहां केरोसिन दिया। अभी जहां पर केरोसिन मिला है। इसके लिए इनके यहां अंडर ग्राउंड टैंकर को सील किया गया। इसके अलावा इनके पेट्रोल पंप से भी सैंपल लिए गए हैं। इसके अलावा अधिकारियों ने बताया कि जो टेंकर मिले हैं इनमें एक टैंकर दिनेश तिवारी, एक टैंकर बाल मुकुंद चौदहा और एक अन्य टैंकर किसका है। इसकी जांच की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local