फोटो 2 कटनी। सुविधाएं नहीं होने से क्वारंटाइन सेंटर में लगा ताला।

ढीमरखेड़ा की ग्राम पंचायत देवरी बिछिया का मामला

कटनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

क्वारंटाइन सेंटर में सुविधा नहीं होने से युवक क्वारंटाइन सेंटर छोड़कर घर चले गए। क्वारंटाइन सेंटर में सुविधा न होने की खबर सोशल मीडिया और समाचार पत्रों में प्रकाशित होने के बाद भी प्रशासन इस संबंध में अनजान बना रहा। सुविधा नहीं होने से क्वारंटाइन किए हुए युवक स्कूल छोड़ गए घर पहुंच गए हैं। ढीमरखेड़ा ग्राम पंचायत देवरी बिछिया के ग्राम पिपरिया में क्वारन टाइन किए गए ग्रामीणों को सुविधा नहीं दिए जाने से अपने-अपने घर चले गए। मामले में ग्रामीणों ने बताया कि मौजूदा हालात में कोरोना वायरस की गंभीरता को नजरअंदाज कर ग्रामीणों की जान के साथ खिलवाड़ हो रहा है। क्वारंटाइन किए हुए युवकों में से यदि एक भी युवक संक्रमित होता है तो इसकी बड़ी कीमत क्षेत्रवासियों को चुकानी पड़ सकती है। ग्रामीणों ने बताया कि पंचायतों में सरकार के द्वारा जारी राशि का इस्तेमाल आखिर कहां और किस रूप में हुआ है। यह समझ ही नहीं आ रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना