रीठी। एक वर्ष से भी अधिक समय से बंद कोटा-जबलपुर ट्रेन को पुनः चालू करने की मांग ने अब जोर पकड़ लिया है। गौरतलब है कि कटनी-बीना रेल खंड के सलैया, बकलेहटा, रीठी, पटौंहा, हरदुआ सहित पड़ोसी जिला पन्नाा के रहवासियों के लिए जबलपुर आने-जाने के लिए एकमात्र सुगम साधन कोटा-जबलपुर ट्रेन का था। जिससे महाविद्यालयों में पढ़ाई कर बच्चे भी अप डाउन कर अपनी पढ़ाई पूरी कर रहे थे। लेकिन कोरोना वैश्विक महामारी के कारण देश में लाकडाउन के कारण रेल प्रशासन ने उक्त ट्रेन को बंद कर दिया। बताया गया कि एक वर्ष से भी अधिक का समय गुजर जाने के बाद भी उक्त साधन को रेलवे द्वारा फिर से चालू नहीं किया जा रहा है। जिससे क्षेत्र के सैकड़ों गांव के यात्रियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। रीठी जनपद की ग्राम पंचायत पटौंहा व रीठी के रहवासियों ने पटौंहा रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर को महाप्रबंधक पश्चिम मध्य रेल व मंडल रेल प्रबंधक के नाम एक ज्ञापन पत्र सौंप कर कोटा-जबलपुर को पुनः चालू करने व नैनपुर तक बढाये जाने की मांग की है।

ज्ञापन के माध्यम से रेल प्रशासन को बताया गया है कि कटनी-दमोह खंड के ग्रामीण स्टेशनों से कटनी या जबलपुर आने-जाने के लिए कार्यालीन समय पर एकमात्र कोटा-जबलपुर 19809-10 गाड़ी उपलब्ध थी। लेकिन जब से इस गाड़ी को बंद किया गया है तब से इस क्षेत्र के लोगों को बहुत परेशानी हो रही है। साथ ही पत्र के माध्यम से रेल प्रशासन को यह भी बताया गया कि इस ट्रेन को नैनपुर तक बढा दिये जाने से इसकी उपयोगिता और बढ जाएगी।

दस मिनट के अंतराल में वापस ट्रेनः ग्रामीणों द्वारा ज्ञापन पत्र में यह बताता गया कि वर्तमान में इस खंड में उपलब्ध एक मात्र मेमो गाड़ी बीना-कटनी 06621 के समय में जो परिवर्तन किया गया है। लेकिन कटनी-बीना 06623 का जो समय परिवर्तन किया गया है। बताया गया कि उक्त गाड़ी को जो कटनी से दोपहर 12 बजे प्रस्थान का समय निर्धारित किया गया है। उससे इस गाड़ी की उपयोगिता टोटल खत्म हो गई है। यदि कोई यात्री बीना-कटनी से सुबह 11.50 पर कटनी पहुंचा है तो वह कोई भी कार्य निपटाकर पुनः दस मिनट बाद दोपहर 12 बजे उक्त गाड़ी से वापस नही आ पाता। जिससे जनता को कोई लाभ नही मिल रहा है, और न ही यह किसी काम की है। ग्रामीणों ने कटनी-बीना 06622 का कटनी से प्रस्थान का समय पूर्व की भांति शाम 5 बजे किये जाने की मांग की है। साथ ही कोटा-जबलपुर को चालू कर पटौंहा स्टेशन पर स्टॉपेज की भी मांग की गई है। ज्ञापन सौंपने के दौरान डाक्टर नरेंद्र राय, ओमनारायण राय, नरेश राय, अरूण कुमार, राजेन्द्र पटेल, शरद विश्वकर्मा, प्रदीप पटेल, शोकीलाल चौधरी, मोहित कुमार, धनीराम, राकेश कुमार, दुर्ग सिंह, रमेश पटेल सहित अन्य जन उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local