कटनी, नईदुनिया प्रतिनिधि। जिला अस्पताल में पदस्थ एक चिकित्सक ने निजी क्लीनिक में एक महिला का इलाज किया। इलाज के बाद उसकी मौत हो गई। स्वजन व समाजसेवी संगठनों के सदस्यों ने चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग को लेकर जिला अस्पताल के गेट पर दो घंटे तक प्रदर्शन किया। सिविल सर्जन व कोतवाली थाना प्रभारी के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। जानकारी के अनुसार रीवा निवासी लक्ष्मी पति वीरेंद्र सेन 29 वर्ष के पेट में दर्द की शिकायत थी। महिला के पति वीरेंद्र सिंह व भाई लवकुश सेन ने बताया कि 24 सिंतबर को वे उसे जिला अस्पताल में इलाज कराने लेकर आए। यहां पर जांच के बाद उसे अपेंडेक्स होने की जानकारी दी गई। स्वजन का आरोप था कि जिला अस्पताल में पदस्थ सर्जन डा. आरबी सिंह ने उन्हें बताया कि शासकीय अस्पताल में लगभग डेढ़ माह ऑपरेशन का नंबर आएगा और उन्होंने अपनी निजी क्लीनिक में इलाज कराने महिला को भर्ती कराया। स्वजन ने बताया कि 17 हजार रूपये में इलाज की बात हुई थी। डा. सिंह ने महिला का ऑपरेशन किया और दो दिनों तक वह उनकी क्लीनिक में भर्ती रही। मंगलवार की देर शाम महिला की हालत बिगड़ने लगी। जिसपर स्वजन ने डॉक्टर को फोन लगाया लेकिन वे क्लीनिक नहीं आए और न ही कोई इलाज किया गया। स्वजन के अनुसार रात को महिला की मौत हो गई और उसके बाद डॉक्टर ने पहुंच उसे दूसरे निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। जहां पर भी इलाज के नाम पर दवाएं मंगाई गई और उसके बाद जिला अस्पताल भेज दिया गया, जहां पर बताया गया कि महिला की मौत हो गई है।

अस्पताल गेट पर लगाया जाम, की नारेबाजी

स्वजन सहित बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता बुधवार की सुबह जिला अस्पताल पहुंच गए और लगभग 11 बजे जिला अस्पताल प्रबंधन व डा. सिंह के खिलाफ नारेबाजी करते हुए गेट पर जाम लगा दिया। स्वजन व कार्यकर्ता सर्जन के खिलाफ कार्रवाई की बात पर अड़े रहे। इस बीच कोतवाली का बल भी मौके पर पहुंच गया। मामला बिगड़ता देख कोतवाली थाना प्रभारी अजय सिंह और सिविल सर्जन डा. यशवंत वर्मा मौके पर पहुंचे और स्वजन व कार्यकर्ताओं से चर्चा की। प्रदर्शन कर रहे लोग सर्जन डा. सिंह को निलंबित करने की बात पर अड़े रहे। अधिकारियों ने तीन चिकित्सकों की टीम से पोस्ट मार्टम कराने व उसकी वीडियोग्राफी कराने के बाद रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई का आश्वासन दिया, जिसके बाद मामला शांत हुआ। पुलिस ने महिला का पीएम कराया है और मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close