खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर-एदलाबाद के साथ ही जिले से गुजरने वाले बड़ौदा-बैतूल नेशनल हाईवे के लिए भू-अधिग्रहण की तैयारी शुरू हो गई है। शहर के बाहर से यह हाईवे देशगांव से सीधे रुधि में मिलेगा। करीब 29 किलोमीटर के इस बायपास का नेशनल हाईवे अथारिटी आफ इंडिया (एनएचएआइ) डीपीआर बना चुका है। अब राजस्व विभाग के साथ चिन्हित चल और संपत्ति का सर्वे किया जा रहा है।

इंदौर और खरगोन से हरदा तथा बैतूल-नागपुर की ओर जाने वाले वाहनों को शहर से होकर नहीं जाना पड़ेगा। देशगांव से वाहन बायपास से सीधे हरसूद रोड पर रुधि पहुंच जाएंगे। इससे शहर के बीच से गुजरने में यातायात जाम से राहत तो मिलेगी। करीब 16 किलोमीटर की दूरी की बचत भी होगी। परियोजना के दूसरे चरण में रुधि से आशापुर तक फोरलेन का निर्माण होगा। इसके लिए वन विभाग की अनुमति की कार्रवाई चल रही है।

एनएचएआइ द्वारा इसके लिए लगभग 15 गांवों में जमीनों का अधिग्रहण किया जाएगा। करीब 400 करोड़ रुपये की लागत से इसका निर्माण एनएचएआइ द्वारा किया जाएगा। फोरलेन बायपास के लिए अधिग्रहित होने वाली चिन्हित जमीनों की खरीदी-ब्रिकी पर प्रशासन ने रोक लगा दी है। जमीन अधिग्रहण उपरांत दो साल में निर्माण पूर्ण करने का लक्ष्‌य है।

इन गांवों से गुजरेगा बायपास

देशगांव से रुधि को जोड़ने वाला 45 मीटर चौड़ा फोरलेन बायपास खंडवा और छैगांवमाखन तहसील के 15 गांवों से होकर गुजरेगा। इनमें रुधि, बडगांवमाली, नहाल्दा, कोटवाड़ा, सिहाड़ा, मथैला, गोकुलगांव, पिपल्या तहार, सुरगांव निपानी, टिटगांव, देवलामाफी, अजंटी, टेमीकला, सहेजला और देशगांव की निजी व सरकारी जमीन अधिग्रहित होगी। रुधि के पास औद्योगिक क्षेत्र की भी कुछ जमीन आएगी। बायपास दो जगह रेलवे लाइन भी क्रास करेगा। यहां ओवरब्रिज भी बनेंगे। इसके अलावा आवश्यकता अनुसार पुल-पुलियां और देशगांव, मथेला तथा रुधि के पास मुख्य मार्गो पर जंक्शन बनाए जाएंगे।

अवार्ड के लिए चल-अचल संपत्ति का सर्वे

सोमवार को ग्राम नहाल्दा और कोटवाड़ा क्षेत्र में सर्वे किया गया। पटवारी सुभाष गाड़वे के साथ एनएचएआइ के इंजीनियर राजीव कुमार राय, पटवारी गोपाल पालीवाल ने खेत में कुएं, ट्यूबवेल, पाइप लाइन, फलदार वृक्ष, भवन आदि का आकलन किया गया।

जमीनों की पूछपरख बढ़ी

इंदौर-एदलाबाद नेशनल हाईवे के बाद अब देशगांव-रुधि फोरलेन बायपास की वजह से इस क्षेत्र में जमीनों के दामों में उछाल के साथ ही इनकी पूछपरख बढ़ गई है। प्रदेश के विभिन्ना जिलों से जमीनों के कारोबारी गांव पहुंचकर जमीनों का सौदा कर रहे हैं। पेट्रोल पंप, ढाबा-होटल और कालोनी आदि कार्यो के लिए जमीन खरीदने के लिए दलाल भी सक्रिय हो गए हैं।

- देशगांव-रुधि बायपास के लिए डीपीआर बनाकर मुख्यालय भेजी हुई है। चिन्हित जमीनों के खसरा नंबर और सूची एसडीएम खंडवा को सौंप कर इनकी खरीदी-ब्रिकी और मद परिवर्तन पर रोक लगवा दी है। अधिग्रहित जमीनों का मुआवजा निर्धारण के लिए चल और अचल संपत्तियों के आकलन का सर्वे चल रहा है।-वीवी कनकने, प्रोजेक्टर मैनेजर एनएचएआइ खंड़वा।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close