खंडवा,इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Corona virus effect in Madhya Pradesh कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में दर्शनार्थियों का प्रवेश 20 से 31 मार्च तक प्रतिबंधित कर दिया गया है। 23 मार्च को अमावस्या पर नर्मदा स्नान के लिए जुटने वाली भीड़ को रोकने के लिए बाहरी लोगों का प्रवेश भी निषेध रहेगा। गुरुवार को श्रीजी मंदिर ट्रस्ट और प्रशासन की बैठक में यह निर्णय लिया गया। मंदिर में पूजा-अर्चना पूर्ववत जारी रहेगी। मंगलवार को भारतीय पुरातत्व विभाग ममलेश्वर मंदिर में भी श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित कर चुका है। इंदौर और खंडवा तरफ से आने वाले श्रद्धालुओं को मोरटक्का में ही रोक दिया जाएगा।

खरगोन : महाराष्ट्र सीमा सील

खरगोन जिले से लगने वाली महाराष्ट्र सीमा चित्तौड़गढ़-भुसावल राजमार्ग स्थित शेरी नाका को सील कर दिया गया है। महाराष्ट्र की बसें भी प्रवेश नहीं कर सकेंगी। वहां से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी। कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने धारा 144 के तहत गुरुवार को आदेश जारी किए। इस सीमा से उत्तर और दक्षिण के कई प्रांतों से बड़ी संख्या में लोडिंग वाहन प्रदेश में आते हैं, इसलिए यहां पुलिस चौकी की स्थापना और अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

आलीराजपुर : दो राज्यों में आवाजाही रोकी

जिले की सोंडवा तहसील के कई गांव महाराष्ट्र और गुजरात की सीमा से सटे हैं। इन प्रांतों में नर्मदा डूब क्षेत्र के ग्रामीण बोट, नाव और डोंगी आदि की मदद से आवागमन करते हैं। प्रशासन ने वायरस संक्रमण को देखते हुए अब बोट-नाव आदि से इन प्रांतों मे जाने पर रोक लगा दी है। गुजरात से आने-जाने वाली बसों की जांच की भी जा रही है।

बड़वानी : बसें बंद

शुक्रवार से महाराष्ट्र की ओर आवाजाही करने वाली जिले की सभी बसों का संचालन 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी के निर्देश पर कलेक्टर अमित तोमर ने गुरुवार को वाहन मालिकों को सूचना दी है। जिले में सेंधवा की बिजासन चौकी से महाराष्ट्र बॉर्डर लगी हुई है। जिले से महाराष्ट्र के शिरपुर, धुलिया, नंदूरबार, दोंडाईचा नगरों की ओर यात्री बसें संचालित होती है।

मंदसौर : गोठ के कार्यक्रम निरस्त

मंदसौर जिले में लंगर और भंडारों पर भी प्रतिबंध लगाया गया है। भीड़ एकत्र न हो, इसके लिए सभी समाजों ने रंग तेरस पर होने वाली गोठ के कार्यक्रम भी स्थगित कर दिए। धर्मशालाओं और रिसोर्टो में भी बुकि ंग बंद हो गई है। न्यायालय में भी पक्षकारों और गवाहों को उपस्थित न होने के लिए कहा गया है।

झाबुआ में रोक नहीं

झाबुआ। जिले के पिटोल में मप्र-गुजरात सीमा पर आवाजाही नहीं रुकी है। कोई स्वास्थ्य टीम भी अब तक नहीं भेजी गई है। बसों और जीपों से बिना रोकटोक यात्री मप्र से महाराष्ट्र और गुजरात से मप्र में प्रवेश कर रहे हैं। सुरक्षा की दृष्टि से पिटोल बेरियर पर दो पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। इसी तरह जिले के थांदला नजर से लगी गुजरात व राजस्थान बॉर्डर पर भी कोई रोकटोक नहीं है। वट्ठा व हरिनगर तथा राजस्थान के सीमांत गांवों में लगातार आवागमन हो रहा है। मेघनगर रेलवे स्टेशन से गुजरने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों में भीड़ काफी कम रही। लोकल यात्री ट्रेनों में भी यही स्थिति है।

भोपाल मण्डल की गाड़ियां निरस्त

इंदौर। रेल प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रभाव के कारण रेल यात्रियों की भारी कमी को देखते हुए भोपाल मण्डल से प्रारंभ/समाप्त होने वाली गाड़ी संख्या 12061 हबीबगंज-जबलपुर जनशताब्दी एक्सप्रेस को दिनांक- 20.03.2020 से 31.03.2020 तक एवं 12062 जबलपुर-हबीबगंज जनशताब्दी एक्सप्रेस को दिनांक- 21.03.2020 से 01.04.2020 तक, गाड़ी संख्या 51189 इटारसी-प्रयागराज छिवकी पैसेंजर को दिनांक-20.03.2020 से 31.03.2020 तक एवं 51190 प्रयागराज छिवकी-इटारसी पैसेंजर को दिनांक- 21.03.2020 से 01.04.2020 तक, गाड़ी संख्या 51603/51604 बीना-कटनी-बीना पैसेंजर को दिनांक- 20.03.2020 से 31.03.2020 तक निरस्त करने का निर्णय लिया गया है।

गाड़ी संख्या 22983 /22984 कोटा इंदौर कोटा दिनांक 20.03.2020 से 31.03.2020 तक निरस्त वहीं गाड़ी संख्या 59803/59804 कोटा रतलाम कोटा 20 मार्च से 31 मार्च 2020 तक निरस्त रहेगी।

सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति को सीमित करने का निर्णय

भोपाल। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए राज्य सरकार ने सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति को सीमित करने का निर्णय लिया है। शुक्रवार से ही सरकारी कार्यालयों में 50 फीसदी कर्मचारी ही प्रतिदिन उपस्थित रहेंगे।

एक कर्मचारी यदि आज आया तो अगले दिन वह ड्यूटी पर नहीं आएगा बल्कि उसके स्थान पर दूसरा कर्मचारी आएगा। इस तरह प्रतीफीन 50 फीसद कर्मचारी ही ड्यूटी पर मौजूद रहेंगे। जिस कर्मचारी का ड्यूटी पर आने का दिन नहीं होगा, वह मुख्यालय नहीं छोड़ेगा और मोबाइल फोन पर सक्रिय रहेगा। सामान्य प्रशासन विभाग ने मुख्यालय और मैदानी अफसरों को इसके लिए आदेश जारी कर दिया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस