खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। यूरिया खाद की कालाबाजारी के आरोप में पाडल्या के एक खाद बीज व्यवसायी पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है। कृषि विभाग की टीम ने जांच में व्यवसायी के गोदाम में 148 बोरी यूरिया जब्त की थी। अधिकारियों ने यूरिया जब्त करने के बाद उसे पहले व्यवसायी को यह सूपुर्द किया था लेकिन बाद में आदिम जाति सेवा सहकारी समिति पाडल्या को सौपा गया है।

उर्वरक निरीक्षक ईश्वर पुत्र हीरालाल वास्कले ने खालवा थाने में ग्राम पांडल्या निवासी खाद बीज व्यवसायी सुनील पुत्र मोहनलाल राठौर की शिकायत की थी। 30 नवंबर को खाद अधिकारियों को सूचना मिली थी कि व्यवसायी ने अपने गोडाउन में कालाबाजारी करने के उद्देश्य से 148 बोरी यूरिया का भंडारण कर रखा है। इस सूचना पर कृषि विभाग के जिला स्तरीय निरीक्षण दल के प्रभारी सहायक संचालक एलएस निगवाल के निर्देशन में ईश्वर वास्कले और तकनीकि सहायक जयपाल सिंह पवार कार्यालय व्यवसायी सुनील राठौर के गोडाउन में दबिश दी गई। सुनील के गोडाउन में अवैध रूप से करीब 148 बोरी यूरिया रखा हुआ मिला। इस मामले मे उवर्रक निरीक्षक ईश्वर वास्कले ने दो दिसंबर को खालवा थाने में शिकायत की। खालवा थाना प्रभारी निरीक्षक परसराम डाबर ने बताया कि सुनील राठौर पर उर्वरक तनियंत्रण आदेश 1985 की धारा 7ए आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3त2द्धतएद्ध और 7 त3द्ध में प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। इस मामले में आरोपित सुनील राठौर की तलाश की जा रही हैं। उसे शीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा।

सहकारी समिति को सौंपा युरिया

कार्रवाई करने वाले कृषि विभाग के अधिकारियों ने 30 नवंबर को जब्त किया हुआ यूरिया रखने की व्यवस्था नहीं होने पर आरोपित व्यवसायी सुनील राठौर को अस्थाई रूप से सौपा था। इसके बाद दो दिसंबर को जब्त किया हुआ यूरिया सुनील राठौर के गोडाउन से हटाते हुए आदिम जाति सेवा सहकारी समिति ग्राम पांडल्या के सहायक प्रबंधक सुभाष पंवार को सौपा गया। इस तरह से अधिकारियों ने यूरिया रखने की व्यवस्था नहीं हो पाने पर उसे पहली बार तो आरोपित राठौर को ही सौंप दिया था।

खाद विक्रेताओं को दिए नोटिस

कृषि विभाग की टीम ने सोहनलाल कन्हैयालाल खंडवा, रजत कुमार विनोद कुमार खंडवा, मंसूरी सेवा केंद्र छनेरा- हरसूद, जायसवाल कृषि केंद्र आशापुर खालवा, अग्रवाल कृषि आशापुर खालका, मेसर्स ध्रुव ट्रेडर्स, बोरगांव बुजुर्ग, रेवा कृषि केंद्र बोरगांव बुजुर्ग, राहुल कृषि सेवा केंद्र रूस्तमपुर, आकाश कृषि केंद्र छनेरा पंधाना, महाराजा कृषि केंद्र खालवा, नक्कार ट्रेडर्स खालवा, गायत्री ट्रेडर्स खंडवा, रवजी ब्रदर्स खंडवा, राजेश्वरी फर्टिलाइजर्स खंडवा,आक्किा एग्रो मूंदी और दिशा एग्रो पाडल्या माल खालवा का निरीक्षण किया था। यहां पर खाद का स्टाक रजिस्टर, रेट लिस्ट,बिल्टी सहित अन्य दस्तावेज नहीं मिले। इस पर कृषि विभाग ने इन 16 खाद विक्रेताओं को नोटिस दिया है।

खाद की कालाबाजारी रोकने की कवायद

कृषि विभाग की टीम द्वारा जिले में करीब एक माह से सक्रिय है। पंधाना, खंडवा,खालवा, पुनासा, हरसूद और बलड़ी ब्लाक में खाद विक्रेताओं की दुकान और गोदामों पर छापामार कर्रवाई की गई। इसके बाद भी केवल एक जांच प्रतिवेदन ही बन पाया। इस प्रतिवेदन के आधार पर भी अधिकारियों को खाद विक्रेता पर कार्रवाई करवाने में तीन दिन का समय लग गया। तीन से केवल प्रतिवेदन लेकर अधिकारी मामले को खत्म करने की कोशिश में थे । हालांकि एक माह से चल रही छापामार कार्रवाई में खाद की कालाबाजारी करते हुए पकड़े गए खाद विक्रेताओं पर सख्ती के साथ कार्रवाई करने से कृषि विभाग के अधिकारी बचते नजर आ रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local