खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। खंडवा रेलवे स्टेशन पर लगे पैदल पुल पर लगी लिफ्ट खराब होने से दंपती और उनके दोनों बच्चे फंस गए। पहले उन्होंने सहायता के लिए आवाज लगाई लेकिन आने-जाने वाले यात्री सुन नहीं पाए। इसके बाद उन्होंने खंडवा निवासी अपने स्वजन व लिफ्ट में लिखे नंबर पर फोन लगाया। इसके बाद रेलवे के कर्मचारी पहुंचे व लिफ्ट खोलने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली। दो घंटे बाद बुरहानपुर से पहुंचे कंपनी के मैकेनिक ने लिफ्ट खोलकर सभी को बाहर निकाला।

नासिक निवासी एजाज कुरैशी व सना कुरैशी अपने एक वर्ष व चार वर्ष के बच्चे के साथ सुबह साढ़े सात बजे खंडवा रेलवे स्टेशन पर पहुंचे थे। पांच नंबर प्लेटफार्म पर लगी लिफ्ट से नीचे उतरने लगे। इसी दौरान लिफ्ट बीच में बंद हो गई। इससे वे घबरा गए। स्वजन व रेलवे अधिकारियों को इसकी सूचना दी। रेलवे स्टेशन पर लिफ्ट ठीक करने के लिए किसी मैकेनिक के नहीं होने से स्थानीय मैकेनिकों को बुलाया गया। उन्होंने इसे खोलने का प्रयास किया लेकिन लिफ्ट नीचे गिरने के डर से ज्यादा प्रयास नहीं किया। लिफ्ट में हवा पहुंचाने के लिए जगह बनाई व पंखा भी चालू कर दिया जिससे दंपती को राहत मिली। इसी दौरान रिश्तेदार भी पहुंच गए उन्होंने बिस्किट व पानी की बोतल ऊपर से लिफ्ट में पहुंचाई। बुरहानपुर से लिफ्ट कंपनी के मैकेनिक ने पहुंचकर पांच से दस मिनट में ही इमरजेंसी गेट खोले व सभी को सकुशल बाहर निकाला। स्वजन ने खंडवा में मैकेनिक नहीं होने पर नाराजगी जताई।

पांच माह में तीसरा हादसा

लिफ्ट खराब होनी की पिछले पांच-छह माह में तीसरी घटना है। इसके पहले जनवरी में दो नाबालिग लिफ्ट में फंसे थे। इसके पहली भी एक दंपती इसी लिफ्ट में फंस चुके हैं। लिफ्ट लगाने वाली कंपनी ने यहां पर कोई इंजीनियर या मैकेनिक नियुक्त नहीं किया है। रेलवे में भी इसके अधिक जानकार कर्मचारी नहीं।

- लिफ्ट में फंसे सभी यात्रियों को सकुशल निकाला गया है। लिफ्ट ठीक हो चुकी हैं। क्यों खराब हुई इसकी जांज की जा रही है। जो भी तकनीकी परेशानी होगी उसे दूर कराया जाएगा।-जीएल मीणा, रेलवे स्टेशन अधीक्षक

- छह साल के बाद खंडवा आया हूं। लिफ्ट खराब होने पर इसमें फंसे रहे। हमें लिफ्ट के गिरने का डर भी लग रहा था व बच्चों की चिंता होने लगी थी। लेकिन सभी की कोशिश से सकुशल निकाला गया।-एजाज कुरैशी, लिफ्ट में फंसे यात्री

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close