खंडवा। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए अभी मास्क ही वैक्सीन है। अगर चेहरे पर मास्क लगा है तो कोरोना संक्रमण आपके पास नहीं आएगा। संक्रमण से बचाव को लेकर जागरूक लोगों द्वारा आमजन से मास्क पहनकर ही घर से निकलने की जा रही है।

* पंडित पवन तारे ने कहा कि धार्मिक आयोजनों में या मंदिर में दर्शन करने के दौरान मास्क पहनकर ही जाएं। शारीरिक दूरी का ध्यान भी रखें। मास्क केवल आपको ही नहीं बल्कि परिवार और अन्य लोगों को भी संक्रमण से बचाएगा। भीड़ भरे क्षेत्रों में जाने से बचकर रहें और शारीरिक दूरी का पालन जरूर करें।

* नार्मदीय धर्मशाला कमेटी के सचिव सुभाष केशोरे ने कहा कि परंपरा के निर्वहन के साथ ही कोरोना से बचाव भी जरूरी है। आमजन द्वारा मास्क लगाने के साथ ही अन्य सावधानी भी बरती जाए। नर्मदीय ब्राह्मण समाज द्वारा हर साल गोपाष्टमी पर अन्नाकूट का बड़ा आयोजन किया जाता है। इस बार समाज की युवाम समिति ने छोटे स्तर पर रखा।

* अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के प्रदेश मंत्री यशदीप चौरे ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क का

उपयोग सबसे ज्यादा जरूरी है। किसी भी सार्वजनिक स्थल पर जाने से पहले मास्क जरूर पहनें और दूसरों को भी जागरूक करें। कई लोग मास्क पहनने में भी लापरवाही करते हैं, ऐसा बिलकुल ना करें।

* सीएसपी ललित गठरे ने कहा कि लोग कोरोना संक्रमण को भूल गए हैं। सर्द मौसम में संक्रमण का खतरा और बढ़ गया है। मास्क लगाना और दो गज दूरी बनाए रखना ही कोरोना से लड़ने के बेहतर उपाय हैं। बुजुर्गों को संक्रमण से बचाना बहुत आवश्यक है। इन्हें जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने दें।

- श्रीदादाजी भक्त आशीष चटकेले ने कहा कि कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। हमें अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। मास्क लगाना सबसे पहली प्राथमिकता है। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी भी रखना जरूरी है। श्रीदादाजी धाम आने वाले भक्तों से भी यह अपील हमारे द्वारा की जा रही है।

* लायंस क्लब ग्रेटर अध्यक्ष मंगल यादव ने कहा कि कोरोना से बचने के लिए मास्क ही सबसे बेहतर उपाय है। मौसम में बदलाव के साथ सर्दी-जुखाम के मरीज बढ़ रहे हैं। ऐसे में छींक आने और खांसने वाले के संपर्क में आने से हम भी प्रभावित हो सकते हैं। मास्क लगा रहेगा तो संक्रमण नहीं फैलेगा।

* फिजियोथैरेपिस्ट रचना नागर ने कहा कि घर से निकलने के दौरान मास्क जरूर लगाती हूं। यही नहीं औरों को भी मास्क लगाने के लिए प्रेरित करती हूं। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए यह सबसे कारगर उपाय है। हम स्वयं जागरूक रहें और दूसरों को भी जागरूक करें तो कोरोना संक्रमण को हराया जा सकता है।

* सामाजिक कार्यकर्ता भूपेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि अधिकांश लोग कोरोना संक्रमण को हल्के में लेकर मास्क नहीं लगा रहे हैं। शारीरिक दूरी का पालन भी नहीं हो रहा है। ऐसे लोग खुद तो संक्रमित होंगे ही अपने परिवार और मिलने-जुलने वाले अन्य लोगों को भी संक्रमित करेंगे। ऐसे लापरवाह लोगों पर जुर्माने की कार्रवाई जरूरी है।

* व्यवसायी कैलाश पटेल ने कहा कि जब तक कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन नहीं आ जाती है तब तक मास्क ही वैक्सीन है। मास्क पहनकर ही घर से निकलें और दूसरों को भी मास्क पहनने के लिए कहें ताकि संक्रमण से बचा जा सके। भीड़ भरे क्षेत्रों में जाने से बचा जाए।अगर चेहरे पर है मास्क तो कोरोना संक्रमण नहीं आएगा पास

खंडवा। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए अभी मास्क ही वैक्सीन है। अगर चेहरे पर मास्क लगा है तो कोरोना संक्रमण आपके पास नहीं आएगा। संक्रमण से बचाव को लेकर जागरूक लोगों द्वारा आमजन से मास्क पहनकर ही घर से निकलने की जा रही है।

* पंडित पवन तारे ने कहा कि धार्मिक आयोजनों में या मंदिर में दर्शन करने के दौरान मास्क पहनकर ही जाएं। शारीरिक दूरी का ध्यान भी रखें। मास्क केवल आपको ही नहीं बल्कि परिवार और अन्य लोगों को भी संक्रमण से बचाएगा। भीड़ भरे क्षेत्रों में जाने से बचकर रहें और शारीरिक दूरी का पालन जरूर करें।

* नार्मदीय धर्मशाला कमेटी के सचिव सुभाष केशोरे ने कहा कि परंपरा के निर्वहन के साथ ही कोरोना से बचाव भी जरूरी है। आमजन द्वारा मास्क लगाने के साथ ही अन्य सावधानी भी बरती जाए। नर्मदीय ब्राह्मण समाज द्वारा हर साल गोपाष्टमी पर अन्नाकूट का बड़ा आयोजन किया जाता है। इस बार समाज की युवाम समिति ने छोटे स्तर पर रखा।

* अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के प्रदेश मंत्री यशदीप चौरे ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क का

उपयोग सबसे ज्यादा जरूरी है। किसी भी सार्वजनिक स्थल पर जाने से पहले मास्क जरूर पहनें और दूसरों को भी जागरूक करें। कई लोग मास्क पहनने में भी लापरवाही करते हैं, ऐसा बिलकुल ना करें।

* सीएसपी ललित गठरे ने कहा कि लोग कोरोना संक्रमण को भूल गए हैं। सर्द मौसम में संक्रमण का खतरा और बढ़ गया है। मास्क लगाना और दो गज दूरी बनाए रखना ही कोरोना से लड़ने के बेहतर उपाय हैं। बुजुर्गों को संक्रमण से बचाना बहुत आवश्यक है। इन्हें जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने दें।

- श्रीदादाजी भक्त आशीष चटकेले ने कहा कि कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। हमें अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। मास्क लगाना सबसे पहली प्राथमिकता है। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी भी रखना जरूरी है। श्रीदादाजी धाम आने वाले भक्तों से भी यह अपील हमारे द्वारा की जा रही है।

* लायंस क्लब ग्रेटर अध्यक्ष मंगल यादव ने कहा कि कोरोना से बचने के लिए मास्क ही सबसे बेहतर उपाय है। मौसम में बदलाव के साथ सर्दी-जुखाम के मरीज बढ़ रहे हैं। ऐसे में छींक आने और खांसने वाले के संपर्क में आने से हम भी प्रभावित हो सकते हैं। मास्क लगा रहेगा तो संक्रमण नहीं फैलेगा।

* फिजियोथैरेपिस्ट रचना नागर ने कहा कि घर से निकलने के दौरान मास्क जरूर लगाती हूं। यही नहीं औरों को भी मास्क लगाने के लिए प्रेरित करती हूं। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए यह सबसे कारगर उपाय है। हम स्वयं जागरूक रहें और दूसरों को भी जागरूक करें तो कोरोना संक्रमण को हराया जा सकता है।

* सामाजिक कार्यकर्ता भूपेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि अधिकांश लोग कोरोना संक्रमण को हल्के में लेकर मास्क नहीं लगा रहे हैं। शारीरिक दूरी का पालन भी नहीं हो रहा है। ऐसे लोग खुद तो संक्रमित होंगे ही अपने परिवार और मिलने-जुलने वाले अन्य लोगों को भी संक्रमित करेंगे। ऐसे लापरवाह लोगों पर जुर्माने की कार्रवाई जरूरी है।

* व्यवसायी कैलाश पटेल ने कहा कि जब तक कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन नहीं आ जाती है तब तक मास्क ही वैक्सीन है। मास्क पहनकर ही घर से निकलें और दूसरों को भी मास्क पहनने के लिए कहें ताकि संक्रमण से बचा जा सके। भीड़ भरे क्षेत्रों में जाने से बचा जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस