खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बीमारियों के इलाज में उपयोग होने वाली दवाओं का नशा करने में उपयोग किया जा रहा है। मेडिकल दुकानों से बिना किसी जांच पड़ताल के मुनाफे के लिए बेची जा रही यह दवाएं युवकों को नशाखोरी के गर्त में धकेल रही है। नींद की टेबलेट का नशे के रूप में जमकर उपयोग हो रहा है। बावजूद इसके नशीली दवाओं को नशे के कारोबारियों को बेचने वालों पर अब तक सख्ती से कार्रवाई नहीं की गई है। इससे अवैध कारोबारियों के हौसले बुलंद हैं।

मोघट पुलिस द्वारा इमलीपुरा में स्थित चाय की दुकान से गांजे के साथ नशीली दवा एल्प्रजोलम टेबलेट जब्त की है। पुलिस की इस कार्रवाई से यह बात साफ जाहिर हो जाती है कि शहर में किस कदर प्रतिबंधित दवाओं का उपयोग नशे के लिए किया जा रहा है। युवाओं की रंगों में दवाएं किस तरह से नशे का जहर घोल रही हैं। पुलिस द्वारा पकड़ी गई नशीली दवा का उपयोग नींद नहीं आने पर किया जाता है। चिन्हित मेडिकल ही यह प्रतिबंधित दवा बेच सकते हैं। उन्हें भी दवा खरीदने वालें की पूरी जानकारी और किस डाक्टर ने यह दवा लिखी होती है यह सब एक रजिस्ट्रर में दर्ज करना होता है लेकिन पुलिस की इस कार्रवाई से यह बात सामने आ गई कि शासन के आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है। देखा जाए तो लंबे समय से नशीली दवाओं का कारोबार करने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई है। ड्रग्स विभाग के अधिकारी लापरवाही की चादर ओढ़े हुए गहरी नींद में है। इसके चलते नशा करने वाले युवकों तक यह नशीली दवाएं पहुंच रही है।

दवाओं को नशे के लिए बेचते हुए पकड़ा था

पिछले साल सात अक्टूबर को रामेश्वर चौकी प्रभारी आरपी यादव ने लोकोशेड में यारु मोहम्मद पुत्र फैज पठान निवासी नेहरू स्कूल चौराहा, महावीर पुत्र मनीष तिवारी और सागर पुत्र किशोर निदाने निवासी सिंघाड़ तलाई को गिरफ्तार किया था। आरोपितों के पास से नशीली दवा एल्प्रजोलम की 42 स्ट्रीप जब्त की थी। नींद न आने पर दी जाने वाली इन गोलियों का उपयोग नशा करने वालों को यह तीनों आरोपित बेचते थे। प्यारू मोहम्मद ने हरदा से गोली लाकर खंडवा में बेचना कबूला था लेकिन इस मामले में पुलिस की कार्रवाई आगे नहीं बढ़ पाई।

आरोपित सलमान ने पूछताछ में कुछ मेडिकलों से दवा लाकर बेचने की बात कबूल की है। इन मेडिकलों पर भी कार्रवाई की जाएगी। मेडिकलों के बारे में ओर अधिक जानकारी निकाली जा रही है। नशे का कारोबार करने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा। -ललित गठरे, नगर पुलिस अधीक्षक

Posted By: gajendra.nagar

NaiDunia Local
NaiDunia Local