खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दर्द और एलर्जी की दवाएं नशा करने के लिए उपयोग की जाने लगी है। डाक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के बगैर बाजार में यह धड़ल्ले से बिक रही है। दस गोलियों की स्ट्रिप 10 रुपये में बाजार में मेडिकल दुकानों पर उपलब्ध है लेकिन नशे के बाजार में आने के बाद दस गालियों की स्ट्रिप के दाम 250 से 300 रुपये तक हो जाते हैं। यह बात हाल ही में पुलिस द्वारा पकड़े गए तीन युवकों से पूछताछ में सामने आई है। पुलिस ने आरोपित युवकों से प्रतिबंधित गोलियों की 42 स्ट्रिप जब्त की है। पुलिस ने एक युवक को एक दिन की रिमांड पर लिया है। वहीं उसके दो साथियों को जेल भेज दिया गया।

रेलवे ओवर ब्रिज के पास स्थित लोकोशेड में तीन युवकों के संदिग्ध हालत में होने की सूचना रामेश्वर चौकी प्रभारी एसआइ आरपी यादव को मिली थी। एसआइ यादव और एसआइ चंद्रशेखर काड़े ने पुलिसकर्मियों के साथ संदिग्ध युवकों को घेराव कर पकड़ लिया। एसआइ यादव ने बताया कि पकड़े गए युवकों का नाम प्यारु मोहम्मद पुत्र फैज पठान निवासी नेहरू स्कूल चौराहा, महावीर पुत्र मनीष तिवारी और सागर पुत्र किशोर निदाने निवासी सिंघाड़ तलाई है। आरोपितों के पास से दस गोलियों स्ट्रिप की 42 स्ट्रिप जब्त की गई है। दो मोबाइल भी जब्त किए गए हैं। आरोपितों से पूछताछ में यह पता चला है कि यह लोग नशा करने वालों को यह दवा बेचते थे। आरोपितों के पास दर्द निवारक गोलियां मिली हैं। इन गोलियां का उपयोग अक्सर हार्ट के मरीजों के द्वारा किया जाता है। डाक्टर के बिना प्रिस्क्रिप्शन इन्हें नहीं बेचा जा सकता।

हरदा से जिले में चल रहा नशे का कारोबार

हरदा जिले से प्रतिबंधित दवा शहर में लाकर इसका उपयोग नशा करने के लिए किया जा रहा है। यह जानकारी आरोपित प्यार मोहम्मद ने दी है। पूछताछ में प्यारु मोहम्मद ने बताया कि हरदा से यह गोलियां लेकर वह आया था। स्वयं भी इन गोलियों का उपयोग वह नशा करने के लिए करता है। इसके साथ इन दवाओं को वह बेचता भी है। बाजार में दस गोलियों की एक स्ट्रिप की कीमत करीब दस रुपये है लेकिन वे एक स्ट्रिप 250 से 300 रुपये में बेचते हैं। रामेश्वर चौकी प्रभारी एसआइ यादव ने बताया कि आरोपितों पर प्रकरण दर्ज कर गुरुवार को दोपहर में उन्हें कोर्ट पेश किया गया। प्यारु मोहम्मद को एक दिन की रिमांड पर लिया गया है। हरदा ले जाकर उसे गोलियां देने वाले की तलाश की जाएगी। वहीं उसके दो साथी महावीर और सागर को जेल भेज दिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local