खंडवा। नईदुनिया प्रतिनिधि

रविवार को हरफनमौला कि शोरकु मार की 32वीं पुण्यतिथि पर समाधिस्थल फू लों से महके गा। यहां प्रशंसक दूध-जलेबी का भोग लगाकर कि शोरकु मार को स्वरांजलि देंगे। समाधि स्थल पर ही नहीं बल्कि शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में भी कि शोरदा के चाहने वाले उन्हें अपने अंदाज में श्रद्धांजलि देंगे। पुण्यतिथि का विशेष कार्यक्रम संस्कृति विभाग की ओर से पुलिस लाइन ग्राउंड पर आयोजित कि या जाएगा। यहां मुख्य अतिथि मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ की उपस्थिति में फिल्म निर्देशक प्रियदर्शन को कि शोरकु मार अलंकरण से नवाजा जाएगा।

सुबह करीब दस बजे से नगर निगम के बैनर तले यहां आर्केस्ट्रा के साथ कलाकार गीतों की प्रस्तुति देंगे। समाधि स्थल पर शहर ही नहीं बल्कि देशभर के अलग-अलग हिस्सों से प्रशंसक श्रद्धांजलि देने के लिए आएंगे। नगर निगम द्वारा समाधि को फू लों से सजाया जाएगा। यहां प्रशंसकों की ओर से दूध-जलेबी का भोग लगाया जाएगा। समाधि स्थल के अलावा कि शोर स्मारक पर भी प्रशंसकों का तांता लगेगा। कि शोरदा को इंदौर नाका, शहीद सीताराम चौक सहित अन्य स्थलों पर भी स्वरांजलि दी जाएगी।

अर्पणा और सायली के सुरों से सजेगी महफिल

रविवार शाम करीब 7.30 बजे पुलिस लाइन ग्राउंड पर कि शोरकु मार अलंकरण समारोह होगा। इस समारोह में गायक रवींद्र शिंदे, अपर्णा नगरकट्टी और सायली कांबले साथियों के साथ सुरों की महफिल सजाएंगे। आयोजन में मुख्य अतिथि मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ द्वारा फिल्म निर्देशक प्रियदर्शन को कि शोरकु मार अलंकरण से सम्मानित कि या जाएगा।

आज रात 10.12 बजे बनेगा 34 घंटे गायिकी का विश्व रिकॉर्ड

जब कोई बात बिगड़ जाए..दिलबर मेरे कब तक मुझे ऐसे ही तड़पाओगे..ये दिल ना होता आवारा...पल-पल दिल के पास तुम रहती हो...जैसे गीतों के साथ शनिवार दोपहर करीब 12.10 बजे 34 घंटे गायिकी का सिलसिला गांधी भवन में शुरू हुआ। यहां पहली प्रस्तुति दिव्यांग कलाकारों द्वारा दी गई। के सीसी मित्र क्लब द्वारा आयोजित इस आयोजन में गायक कलाकार एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दे रहे हैं। यहां एक गायक द्वारा करीब चार से पांच गीतों की प्रस्तुति दी जा रही है। दिल्ली, कोलकाता, मुंबई सहित अन्य शहरों से आए गायकों की प्रस्तुति को सुनने के लिए गांधी भवन में बड़ी संख्या में श्रोता पहुंच रहे हैं। यहां गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के डॉ.मनीष विश्नोई और प्रेमनारायण चड्ढा सतत गायिकी की मॉनीटरिंग कर रहे हैं। के सीसी मैत्री क्लब के दीपक पाठक ने बताया ने बताया कि करीब सौ से अधिक गायक इस आयोजन में प्रस्तुति देने के लिए अलग-अलग शहरों से आए हैं। 13 अक्टूबर रात 10 बजकर 12 मिनट पर 34 घंटे पूरे होते ही आयोजन समाप्त कि या जाएगा। रिकॉर्ड बनने पर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड द्वारा टीम को सर्टिफिके ट दिया जाएगा। विदित हो कि इससे पहले यह टीम 32 घंटे लगातार गायिकी का रिकॉर्ड बना चुकी है।