हरसूद। प्रदेश में बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कानून की व्यवस्था होने के बाद भी महिलाओं पर ज्यादती सुरक्षा व्यवस्था के दांवों की पोल खोलती है। हैवानियत करने वाले ऐसे दंरिदे की कोई जात, धर्म नहीं होता। बलात्कार जैसे जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले समूचे नारी जाति के अपराधी होकर समाज के लिए नासुर हैं।

यह बात बुधवार को संयुक्त कार्यालय में नायब तहसीदार एसएस मौर्य को सीएम शिवराजसिंह चौहान के नाम ज्ञापन में संतश्री सिंगाजी गवली समाज संगठन व भारतीय मानव अधिकार सहकार ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने कही। उन्होंने खंडवा जिले में 12 वर्ष की मासूम बालिका से दुष्कर्म व बाद में हत्या किए जाने वाले आरोपित को फांसी की सजा देने की मांग की है। इसके पूर्व बुखारदास बाबा समाधि स्थल से बड़ी संख्या में समाजजनों ने मुख्य बाजार से घोषी मोहल्ला व भैरव चौक होकर संयुक्त कार्यालय तक फांसी देने की मांग करते हुए वाहन रैली निकाली। इसमें तेजराम यादव, जगन्नााथ यादव, रामू यादव, हरीश यादव, शांतिलाल यादव, कैलाश यादव, सुरेश यादव, दीपक, पूनमचंद, लखन व बड़ी संख्या में यादव समाज के लोग उपस्थित थे।

दो मिनट का मौन

ज्ञापन के दौरान हैवानियत का शिकार मृतक मासूम की आत्मशांति के लिए संयुक्त कार्यालय में दो मिनिट का मौन रखा गया। सभी सामाजिक वर्गों से अपील की गई है कि भविष्य में इस प्रकार के जघन्य अपराध की रोकथाम के लिए प्रयासरत रहें। वहीं बेटियों व महिलाओं के अपराध के विरोध में सभी वर्गों को आगे आने की अपील की गई।

पंधाना। ग्राम जामनिया में 13 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना के विरोध में बुधवार को पंधाना नगर में महिला सशक्तिकरण एवं समस्त महिला संघठन द्वारा ज्ञापन दिया गया। महिलाएं गांधी प्रतिमा के समक्ष एकत्रित होकर दोपहर दो बजे पंधाना नगर के मुख्य मार्ग, त्रिवेणी चौक, बस स्टैंड से नारे लगाते एसडीएम कार्यालय पहुंचीं। तहसीलदार नितिन चौहान के समक्ष मुख्यमंत्री और पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन वाचन करते श्रुति जैन ने कहा कि इस अमानवीय कृत्य से जिले की छवि धूमिल हो रही है। जो लोग दोषी हैं, उन पर तत्काल प्रभाव से उचित कार्रवाई होना चाहिए। लापरवाह धनगांव थाना प्रभारी तथा अपराधियों को भगाने में गांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पर जांच उपरांत कार्रवाई की जाए। मध्यप्रदेश शासन से बच्ची के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। संबंधित मामले को फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलाया जाए ताकि बच्ची को शीघ्र न्याय मिल सके। अपराध सिद्ध होने के पश्चात बलात्कारियों का एनकाउंटर करने का अधिनियम बनाया जाए ताकि दरिंदे ऐसे दुष्कर्म करने से डरें।

सिंगोट। सिंगोट में भी घटना के विरोध में में बुधवार को पिपलोद थाना क्षेत्र के गवली समाज व भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा बाइक रैली निकालकर आरोपित को फांसी देने की मांग उठाई गई। पिपलोद थाना पहुंचकर थाना प्रभारी को ज्ञापन दिया गया। इस दौरान भाजपा मंडल गुड़ी एवं अखिल भारतीय गवली समाज युवा संगठन मप्र कार्यकर्ताओं द्वारा पिपलोद थाने में थाना प्रभारी अनामिका राजपूत को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में जल्द से जल्द आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई। ज्ञापन देते समय मंडल अध्यक्ष नंदकिशोर जायसवाल, मंडल महामंत्री अमित पटेल यादव, गवली समाज संगठन के जिला अध्यक्ष वासुदेव यादव, संगठन मंत्री विनोद यादव, राम प्रसाद यादव, सुखदेव यादव, विपिन यादव, सुभाष यादव, लोकेश यादव, मुकेश यादव, भोलाराम कनाड़े, पंकज यादव, नीलेश यादव, बंशीलाल यादव, राममिलन यादव, परमानंद यादव, बलिराम यादव एवं अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस