खंडवा। रेल मंत्रालय के नए जीएम अनिल कुमार रविवार को स्पेशल कैरेज से खंडवा से होते हुए मुंबई पहुंचे। भुसावल रेल मंडल की सीमा खंडवा से शुरू होने पर उनका स्वागत करने के लिए डीआरएम विवेक कुमार गुप्ता पहुंचे। खंडवा पहुंचने के बाद वे रेलवे स्टेशन से बाहर आकर पार्सल आफिस तक आकर निरीक्षण किया। इसके बाद जीएम के आने पर उनके साथ भुसावल तक रवाना हो गए। स्टेशन अधीक्षक जीएल मीणा ने बताया आधे घंटे तक डीआरएम स्टेशन पर ही रहे। इस दौरान अन्य विभागों के कर्मचारी भी मौजूद रहे।

शुद्ध और प्रेशर से पानी देने की योजना एक माह में तैयार करें

खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में भीषण जलसंकट को लेकर खंडवा की आवाज संस्था द्वारा लगाई गई याचिका पर शनिवार को जन उपयोगी लोक अदालत ने महत्वपूर्ण फैसला सुनाया। लोक आदालत ने आदेश दिए हैं कि नगर निगम और विश्वा कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं को प्रेशर के साथ शुद्ध जल का वितरण किया जाए। इसके लिए एक महीने के भीतर योजना तैयार करने के आदेश दिए हैं।

जलसंकट से त्रस्त उपभोक्ताओं की पीड़ा को देखते हुए पिछले दिनों खंडवा की आवाज संस्था द्वारा जन उपयोगी लोक अदालत में अधिवक्ता देवेंद्रसिंह यादव ने याचिका लगाई थी। जिला अपर न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव लोकोपयोगी सेवा अदालत के पीठासीन हरिओम अतलसिया द्वारा याचिका में आदेश पारित करते हुए नगर निगम और विश्वा कंपनी को यह भी निर्देशित किया है कि खंडवा शहर में प्रत्येक उपभोक्ताओं को नियमित रूप से शुद्ध जल प्रदाय पर्याप्त प्रेशर से हो, यह सुनिश्चित करें। इसके लिए समुचित कार्य बाबत रूप रेखा, योजना इस आदेश से एक माह की अवधि में तैयार करें। उस पर क्रियान्वयन प्रशासन के सहयोग से शुरू किया जाए। इसके साथ ही यह भी निर्देशित किया गया है कि पानी की सप्लाई पूर्व में जहां-जहां फिल्टर प्लांट संचारित हैं, उन्हें अविलंब सुधारा जाए। यदि उनके प्लांट पर फिल्टर बदलने की आवश्यकता हो तो अविलंब उन्हें परिवर्तित करें। ताकि शहर के निवासियों को शुद्ध पेय जल पूर्ति सुगम हो सके।

लोक आदालत ने यह भी निर्देश दिए हैं कि जल प्रदाय के लिए बिछाई गई लाइनों की रिपोरिंग भी करें। यदि लाइन फूटी होने के कारण उसमें गंदा पानी मिल रहा हो तो उक्त कार्य भी जल्द से जल्द पूरा कराएं। प्रत्येक ग्रीष्मकाल प्रारंभ होने के पूर्व शहर में जल प्रदाय के लिए समुचित दीर्घकालिक कार्य योजना निश्चित समय पूर्व से तैयार करके क्रियान्वयन करें। ताकि ग्रीष्मकाल में जल प्रदाय प्रभावित नहीं हो। लोक अदालत ने आदेश का पालन सुनिश्चित कराने को लेकर एक माह में पालन प्रतिवेदन इस प्राधिकरण को आवश्यक रूप से प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है। न्यायालय द्वारा पारित आदेश पर हर्ष और संतुष्टि व्यक्त करते हुए खंडवा की आवाज के अंशुल सैनी, हेमंत मूंदड़ा, अरुण कुमार बाहेती, विशाल चौहान, हरीश तोलानी, मुल्लू राठौर, अधिवक्ता योगेश गुप्ता, अभिषेक मालाकार, प्रशांत सोनी, राजेश तिवारी, हृदेश वाजपेई, साकेत धात्रक, महेंद्र यादव, मनोज तंवर, अजय मालवीय, गजेंद्र बरकले, चंद्रशेखर डिंडोरे, अजय आर्य, रजनीश सोनी ने प्रसन्नाता व्यक्त की है।

जलस्तर बढ़ा फिर भी चल रहे दो मोटरपंप चारखेड़ा फिल्टर प्लांट पर बैकवाटर का लेवल बढ़ने के बाद भी विश्वा कंपनी अभी दो मोटरपंप चलाकर ही नर्मदा जल छोड़ रही है। मोटरपंप की संख्या नहीं बढ़ने से शहर में पर्याप्त पानी प्रेशर से नहीं बंट पा रहा है। ऐसे में नगर निगम को टैंकरों से प्रभावित क्षेत्रों में जलापूर्ति करनी पड़ रही है। सुक्ता से भी करीब 7 एमएलडी पानी वैकल्पिक तौर पर नगर निगम द्वारा लिया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local