खंडवा। जिले में अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद हो गए हैं कि वे सार्वजनिक रूप से अपना जुलूस निकलवाने से भी बाज नहीं आ रहे हैं। हत्या के प्रयास के मामले में दो माह से जेल में बंद राजा और हम्माद का शनिवार को जेल से टूटने पर जुलूस निकाला गया। राजा को उसके साथी जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद जुलूस के रूप में शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए इमलीपुरा पहुंचे। इस मामले में मोघट थाने में राजा और उसके साथियों पर प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।

मोघट थाना प्रभारी ईश्वर सिंह चौहान ने बताया कि इमलीपुरा निवासी राजा उर्फ हम्माद पिता अलताफ और साथी शोहराब के साथ मिलकर पांच मार्च को इमलीपुरा में अब्दुल रब को सिर में लोहे का सरिया मार था। इस मामले में राजा और शोहराब पर हत्या के प्रयास की धारा 307 में प्रकरण दर्ज कर दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया था। शोहराब की जमानत कुछ समय पहले हो गई थी। शनिवार को राजा की जमानत हुई। जेल से छूटने के बाद शाम में राजा का जुलूस निकाला गया। उसके साथी उसे आटो और बाइक से लेने पहुंचे थे। जुलूस की सूचना मिलने पर राजा और उसके साथियों पर केस दर्ज किया गया है। News Updating...

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local