खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शनिवार दोपहर को तेज गति से जा ही रही कर्नाटक एक्सप्रेस के सामने युवक-युवती ने कूदकर आत्महत्या कर ली। खंडवा स्टेशन से निकलने के बाद 16 किलोमीटर दूर डोंगरगांव के पास दोनों के ट्रेन के सामने कूदने की बात सामने आ रही है। डोंगरगांव स्टेशन के बाद चार किलोमीटर दूर सातफाटा के पास लोको पायलट को पत्थरों के घिसटने की आवाज आने लगी। जब ट्रेन को रोका तो सामने युवक का शव फंसा पाया। वहीं युवती का सिर इंजन के पिछले हिस्से में मिला। अभी युवक व युवती की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

दिल्ली से मुंबई की तरफ जाने वाली कर्नाटक सुपर फास्ट ट्रेन शनिवार को खंडवा स्टेशन से निकली। 20 किलोमीटर दूर जाने पर सातफाटा के पास लोको पायलट को अगले हिस्से में पत्थरों से कुछ घिसटने का अहसास हुआ। स्थिति को देखते हुए ट्रेन रोकी व उतरकर देखा तो सहम गए। इंजन के आगे एक युवक का शव आधा ट्रेन पर व आधा पत्थरों पर लटका हुआ था। इंजन के पिछले हिस्से में युवती का सिर व बाल चिपके मिले। अंदाजा लगाया जा रहा है कि युवक-युवती डोंगरगांव के आसपास ट्रेन के सामने कूदे हैं।

जीआरपी टीम कर रही शिनाख्त

खंडवा जीआरपी थाना प्रभारी बबीता कठेरिया के अनुसार युवक का शव मिलने की सूचना मिली। स्टेशन मास्टर की सूचना के बाद टीम रवाना हो चुकी है। शव पूरी तरह से बिखर चुके हैं। पहचान की जा रही है।

15 से 20 मिनट रुकी रही ट्रेन

घटना के बाद शव निकालने में लगभग 15 से 20 मिनट का समय लगा। इतनी देर तक ट्रेन को रोकना पड़ा। इधर जानकारी के बाद ट्रेन में बैठे यात्री भी पहुंचे। जिससे घटना स्थल पर भीड़ लग गई। जीआरपी ने सख्ती दिखाते हुए सभी को ट्रेन में वापस बैठाया।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local