खंडवा, जबलपुर। Madhya Pradesh PSC Preliminary Examination: मध्य प्रदेश के भाजपा विधायक राम दांगोरे ने रविवार को हुई एमपी पीएससी परीक्षा दी। परीक्षा के बाद उन्होंने प्रश्नपत्र में भील जाति को आपराधिक प्रवृत्ति का बताने वाले सवाल को लेकर रोष जताया। विधायक दांगोरे खंडवा के सिविल लाइन क्षेत्र में सुंदरबाई गुप्ता कन्या शाला के परीक्षा केंद्र में सामान्य परीक्षार्थियों की तरह पहुंचे। विधायक ने कहा, 'राजनीति में शिक्षा का महत्वपूर्ण योगदान होता है। चूंकि मैं लोक सेवा आयोग की निशुल्क तैयारी भी कराता हूं। एक टीचर के लिए यह जानना आवश्यक है कि पीएससी परीक्षा के दौरान बच्चे कि स तरह के डर का सामना करते हैं। परीक्षा के बाद विधायक ने पीएससी परीक्षा में भील समाज को लेकर आए प्रश्न पर आपत्ति जताई।

उन्होंने कहा कि राज्य की सबसे बड़ी इस जाति की उपेक्षा की गई है। भील जनजाति को आपराधिक प्रवृत्ति का बताया गया है, जबकि ये लोग भोले-भाले होते हैं। पीएससी में चयन के बाद राजनीति छोड़ देंगे? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, 'मैंने राजनीति को चुना है, राजनीति ही करूंगा।

जनरल एप्टि्यूट पेपर में गद्यांश से पूछे गए थे सवाल

जबलपुर। मप्र राज्य प्रशासनिक सेवा (एमपीपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा में भील जाति पर पूछे गए सवाल पर विवाद खड़ा हो सकता है। इसमें भीलों को आपराधिक प्रवृत्ति का का बताया गया है। साथ ही लिखा गया है कि भील धन उर्पाजन के लिए गैर वैधानिक तथा अनैतिक काम में संलिप्त हैं।

रविवार को एमपीपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा पूरे प्रदेशभर में आयोजित की गई थी। इस परीक्षा के द्वितीय पाली में जनरल एप्टि्यूट का पेपर था। इसमें गद्यांश के आधार पर प्रश्न पूछे गए थे। इसमें भील जनजाति पर एक गद्यांश था।

गद्यांश में लिखा गया है कि भीलों की आपराधिक प्रवृत्ति का भी एक प्रमुख कारण यह है कि सामान्य आय से अपनी देनदारियां पूरी नहीं कर पाता। फलत: धन उपार्जन की आशा में गैर वैधानिक तथा अनैतिक कामों में भी संलिप्त हो जाते हैं। इसी गद्यांश पर पांच सवाल पूछ गए थे। इनमें से तीन सवाल ऐसे हैं, जिसपर हंगामा मच सकता है।

Posted By: Hemant Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना