MP Gehu Rate: खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कृषि उपज मंडी में सोमवार से नए गेहूं की आवक शुरू हो गई। नया गेहूं मुहूर्त में 6711 रुपये क्विंटल में बिका। मुहूर्त में गेहूं खरीदी के लिए व्यापारियों ने सबसे ऊंची बोली लगाई। मंडी के इतिहास में यह पहला मौका रहा जब किसी किसान का गेहूं इतने अधिक भाव में बिका। उपज बिकने के बाद किसान की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उसने कहा, मेरा तो नसीब चमक उठा। सोमवार को मंडी में केवल एक ही किसान तुलसीराम चौहान निवासी भीलखेड़ी पांच क्विंटल नया गेहूं लेकर आया था।

तीन हजार रुपये क्विंटल से नीलामी में पहली बोली अनाज व्यापारी प्रशांत अग्रवाल ने लगाई। इसके बाद बोली बढ़ती चली गई। अंतिम बोली 6711 रुपये क्विंटल की प्रशांत अग्रवाल ने लगाई और गेहूं खरीद लिया। पांच क्विंटल गेहूं के किसान तुलसीराम को लगभग 34 हजार रुपये मिले। किसान ने नईदुनिया से चर्चा में कहा कि मेरा गेहूं पहले कभी इतने भाव मे नहीं बिका। मेरा तो नसीब चमक गया। व्यापारी अग्रवाल ने कहा कि पहली बार मंडी में उपज लेकर आने वाले किसान को मुहूर्त में अच्छा भाव मिले इसी उद्देश्य से बोली लगाई। मंडी में पुराना गेहूं 2800 से 3000 रुपये क्विंटल बिक रहा है। इधर मंडी सचिव ओपी खेड़े ने बताया कि मंडी में कभी इतने अधिक भाव मे गेहूं की नीलामी नहीं हुई। यह ऐतिहासिक मुहूर्त भाव रहे। मंडी प्रशासन का हमेशा प्रयास रहता है कि किसान को उसकी उपज का उचित मूल्य मिले।

400 वाहन कपास हुआ नीलाम

मंडी में अनाज के अलावा कपास की नीलामी भी हो रही है। सोमवार को 430 वाहन कपास नीलाम हुआ। एक दिन पहले ही किसान मंडी में कपास के वाहन लेकर आ गए थे। सुबह से शाम तक यहां वाहनों की कतार लगी रही। सुबह 11 बजे से नीलामी शुरू हुई। कपास अधिकतम 8189 रुपये क्विंटल में बिका। जबकि न्यूनतम भाव 7377 रुपये और माडल भाव 7900 रुपये क्विंटल रहा। मंडी में खंडवा जिले सहित खरगोन और बुरहानपुर जिले से भी किसान कपास बेचने के लिए आ रहे हैं। हालांकि दोपहर बाद मंडी में कपास के भाव में कमी आने पर किसान मायूस नजर आए। किसानों को उम्मीद थी कि मकर संक्रांति के बाद कपास के भाव में उठाव आएगा लेकिन ऐसी स्थिति नजर नहीं आ रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close