Khandwa Public Transport: खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव को लेकर बसों के यात्रियों की फजीहत हो रही है। अपने गंतव्य तक जाने के लिए बसें नहीं मिल पाने से यात्री परेशान है। ग्रामीण क्षेत्रों के रूट पर सबसे अधिक समस्या बनी है। यात्रियों को बस मिल भी रही है तो उसमें जगह के लिए मशक्कत करना पड़ रहा है। बसों की संख्या कम होने से लोग बसों में खड़े होकर सफर करने को मजबूर हैं।

जिले में पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में खालवा और पुनासा के लिए 120 बसों का अधिग्रहण गुरुवार को कर लिया गया था। ग्रामीण रूट के साथ ही इंदौर और बुरहानपुर रूट की बसें मतदान ड्यूटी में लगाई गई है। इससे बस स्टैंड पर दो दिनों से बसों की कमी बनी हुई है। शुक्रवार को भी बस स्टैंड पर यात्री बसों के लिए परेशान होते रहे। गणेश गोशाला के पास स्थित ताराचंद अग्रवाल बस स्टैंड, रेलवे ओवरब्रिज के पास स्थित पंडित माखनलाल चतुर्वेदी और सूरजकुंड क्षेत्र में बस डिपो में संचालित हो रहे वीरसिंह हिंडौन बस स्टैंड से बसें नहीं के बराबर चलीं। करीब एक से डेढ़ घंटे बाद उन्हें बस मिली भी लेकिन उसमें केवल खड़े रहने की जगह थी। इंदौर और बुरहानपुर रूट से आने वाली बसें यात्रियों से फूल रही। यात्रियों ने छोटे सवारी वाहनों से यात्रा की। दोपहर में शहर के पुराने बस स्टैंड पंडित माखनलाल चतुर्वेदी से बस नहीं मिलने पर पैदल ही महिलाएं निकल पड़ीं।

खालवा, पुनासा, नर्मदानगर और मूंदी रूट पर शुक्रवार को बसें कम चलीं। इस रूट की अधिकांश बसों को खालवा और पुनासा में चुनाव कार्य में लगाया गया था। इस क्षेत्र में मतदान होने से लोग गांव से नहीं निकले। इससे पंडित माखनलाल चतुर्वेदी बस स्टैंड पर खालवा, पुनासा, नर्मदानगर और मूंदी के लिए यात्री कम रहे। इस रूट का बस स्टैंड खाली रहा।

वर्जन-

नगरीय निकाय चुनाव में बसों का अधिगृहण किया जाएगा। इसके साथ ही छैगांवमाखन और पंधाना ब्लाक में तीसरे चरण में पंचायत चुनाव होना है। इसके लिए 170 बसों का अधिग्रहण किया जा रहा है। शुक्रवार को बसों को रोककर अधिगृहण का नोटिस दिया गया। बसों के अधिग्रहण से व्यवस्था प्रभावित हुई है। यात्रियों को परेशानी उठाना पड़ रही है।

जगदीश बिल्लौरे, एआरटीओ

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close