खंडवा, नईदुनिया प्रतिनिधि। बिरसिंहपुर के संजय गांधी ताप गृह की 500 मेगावाट की इकाई के बाद रविवार की सुबह खंडवा की श्रीसिंगाजी ताप गृह की 600 मेगावाट की इकाई में खराबी आ गई, जिसकी वजह से इकाई को बंद करना पड़ा। हालांकि मप्र पावर जनरेशन कंपनी ने करीब तीन घंटे के भीतर ही इस तकनीकी खराबी को दूर कर दोबारा इकाई को चालू कर दिया। करीब 11 बजे इकाई को प्रारंभ किया गया।

ज्ञात हो कि गत दिवस दोपहर करीब 12.31 मिनट पर इस यूनिट में खराबी आने के कारण बिजली उत्पादन बंद हुआ। संजय गांधी ताप विद्युत गृह की 1340 कुल क्षमता में फिलहाल कुल पांच में तीन इकाई में ही 463 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है।

इस संबंध में मुख्य अभियंता संजय गांधी ताप विद्युत गृह व्हीके कैलासिया ने बताया कि बायलर ट्यूब लीकेज की वजह से इकाई को बंद किया गया है। इसके सुधार में कम से कम तीन दिन का वक्त लगेगा तब तक इकाई बंद रहेगी। ज्ञात हो कि मानसून की आमद के साथ ही प्रदेश में बिजली की मांग भी पहले की तुलना में कम हुई है। ऐसे में बिजली इकाईयों से उत्पादित बिजली को बैकिंग के लिए अधिक इस्तेमाल किया जा रहा है। बिजली कंपनी रबी सीजन में आने वाली बिजली की मांग को पूरा करने के लिए अन्य प्रदेशों से बैकिंग का इकरार कर रहा है ताकि जब प्रदेश को बिजली की जरुरत होगी तो उस प्रदेश से तय करार के मुताबिक बिजली वापस ली जा सके। फिलहाल छत्तीसगढ़,पंजाब और उप्र को बिजली दी जा थी। बिजली कंपनी ने करीब 1500— 1800 मेगावाट के बीच बिजली की बैकिंग करने की योजना बनाई है।

कोयला स्टाक

28 मई को प्राप्ति- खपत - स्टाक - बिजली उत्पादन

अमरकंटक- 1209 - 3041 - 39550 - 211 मेगावाट

सारनी - 11171 - 6976 - 116265 - 294 मेगावाट

बिरसिंहपुर- 11783- 12554- 39098- 361 मेगावाट

खंडवा- 42156 - 31162 - 200929 - 1268 मेगावाट

कुल - 66322 - 53733 - 394844 - 2134 मेगावाट

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close