खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मोहर्रम पर ताजियों के चल समारोह में सिर तन से जुदा के नारे लगाने के मामले में कोतवाली पुलिस ने रविवार शाम सात आरोपितों को गिरफ्तार किया है। सभी को जेल भेज दिया है। आरोपित इमलीपुरा, घासपुरा, सन्मति नगर, गुलमोहर कालोनी और इंदौर नाका क्षेत्र के निवासी हैं।

रविवार को कोतवाली पुलिस ने इरशाद उर्फ बाबू (19) निवासी मदरसा के पास बांग्लादेश घासपुरा, ताहिर तालीब (23 ) निवासी इमलीपुरा, मोहम्मद मुज्जमिल (19 ) निवासी इमलीपुरा, इमरान कुरैशी (29) निवासी गली नंबर तीन गुलशन नगर हाल मुकाम पवन चौक इंदौर नाका, इमरान खान (34) निवासी सन्मति नगर, मोहम्मद बिलाल ( 21) निवासी घासपुरा बांग्लादेश और मोहम्मद अशफाक मुंशी (35) निवासी सेक्टर नंबर दो गुलमोहर कालोनी को गिरफ्तार किया। नगर पुलिस अधीक्षक पूनमचंद्र यादव ने बताया कि सभी आरोपितों को जेल भेज दिया। बता दें कि मोहर्रम पर ताजिया का चल समारोह निकला था। इस दौरान जय अंबे चौक पर पुरानी अनाज मंडी के सामने सिर तन से जुदा के नारे लगे थे। इसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर देखे जाने के बाद कोतवाली पुलिस थाने में अज्ञात 25 लोगों पर प्रकरण दर्ज किया गया था।

'अशोक पालीवाल का सिर तन से जुदा' के नारे भी लगे

इधर सिर से तन जुदा नारे लगाने के मामले में एक और वीडियो सामने आया है। इसे लेकर रविवार को महादेवगढ़ मंदिर के संरक्षक अशोक पालीवाल ने कोतवाली थाने में प्रकरण दर्ज करने की मांग की। उन्होंने कोतवाली पुलिस को शिकायती आवेदन दिया है। उन्होंने बताया कि उनके नाम से नारे लगाए गए हैं। एक तरह से हिंदू समाज का नेतृत्व करने पर टारगेट किया जा रहा है। इस तरह के नारे लगाने वालों का आतंकी संगठन पीएफआइ और सिमी के साथ ही उत्तर प्रदेश तथा पाकिस्तान से संबंध होने की जांच करवाई जाए। साथ ही उनका नाम लेकर नारे लगाने वालों के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध किया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close