खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बैतूल सांसद की कार यातायात पुलिस की कार्रवाई के दायरे में आ गई। कार की नेम प्लेट पर सांसद लिखा हुआ था। इस कारण पुलिस ने इस आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए करीब 1500 रुपये का चालान बना दिया। कार में ड्राइवर और सांसद का गनमैन सवार था।

लोकसभा उपचुनाव के चलते आचार संहिता लगी हुई है। ऐसे में जनप्रतिनिधि अपने वाहनों पर नेम प्लेट नहीं लगा सकते, बावजूद नेम प्लेट के शनिवार को मतदान के दिन शहर में सांसद डीके उइके की कार क्रमांक एमपी 04-सीटी-6166 घूमती रही। दोपहर करीब 12 बजे कार अग्रसेन चौराहे पर पहुंची। यातायात थाना प्रभारी सूबेदार देवेंद्र सिंह परिहार और सूबेदार नितिन निगवाल ने कार को रोका। कार की नंबर प्लेट के पास नेम प्लेट पर सांसद लिखा हुआ था। पूछने पर कार चालक ने बताया कि बैतूल के सांसद डीके उइके की कार है। जब सांसद के बारे में पूछा गया तो कहा कि वे नहीं आए हैं। कार में चालक के साथ सांसद का गनमैन भी था। यातायात थाना प्रभारी परिहार ने बताया कि आचार संहिता का उल्लंघन करने पर करने पर कार्रवाई की गई है। 1500 रुपये का चालान बनाया गया। विदित हो कि इससे पहले भी यातायात पुलिस ने केवलराम चौराहे पर इंदौर के सांसद शंकर लालवानी की कार का मोटर व्हीकल एक्ट में चालान बनाया था। उनकी कार पर भी सांसद लिखी हुई नेम प्लेट लगी हुई थी।

732 में से सिर्फ तीन मतदाताओं ने किया मतदान

मांधाता विधायक नारायण पटेल के गढ़ माने जाने वाले मूंदी से करीब पांच किलोमीटर दूर ग्राम पालसूद माल में ग्रामीणों ने चुनाव का बहिष्कार किया। ग्राम पालसूदमाल में मतदान केंद्र क्रमांक 168 में 732 मतदाताओं में से मतदान समाप्ति तक तीन मतदाताओं ने ही अपने मत का प्रयोग किया। ग्रामीणों द्वारा उद्वहन सिंचाई योजना के तहत नहर और अन्य कई मांग की जा रही है लेकिन प्रशासन और जनप्रतिनिधि इन मांगों की अनदेखी कर रहे हैं। ग्रामीणों को मनाने के लिए दिनभर अधिकारी व जनप्रतिनिधि भी पहुंचते रहे लेकिन वे उन्हें मतदान करने के लिए राजी नहीं कर पाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local