खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि) स्वतंत्र, निष्पक्ष निर्वाचन के लिए संसदीय क्षेत्र में किए गए जतन के बारे में गुरुवार को मध्यप्रदेश के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजेश कुमार कौल ने कलेक्टर कार्यालय के सभागार में अधिकारियों से चर्चा की।

इस दौरान उन्होंने कानून व्यवस्था, शराब की अवैध बिक्री, अवैध शस्त्रों रखने वालों के खिलाफ कार्रवाई, अपराधी तत्वों को बांड ओवर करने के साथ ही निर्वाचन के लिए की गई व्यवस्थाओं के जानकारी प्राप्त की। बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिर्देशक राकेश गुप्ता, कलेक्टर अनय द्विवेदी, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एसएल सिंघाडे, सीइओ जिला पंचायत नंदा भलावे कुशरे सहित विधानसभाओं के सहायक रिटर्निंग अधिकारी और पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में कौल ने सभी एआरओ को निर्देश दिए कि अपने अपने विधानसभा क्षेत्र में आचार संहिता का पालन करवाते हुए उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करना सुनिश्चित करें। उन्होंने पोस्टर बेलेट के संबंध में जानकारी लेते हुए 80 वर्ष से अधिक आयु, दिव्यांगजन एवं कोविड के मतदाताओं को पोस्टर बेलेट से मतदान करने के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने सभी एआरओ को निर्देश दिए कि मतदान केंद्रों पर जरूरी व्यवस्थाएं हो और चेक पोस्ट पर भी सतत निगरानी रखी जाए। मतदान दलों को प्रशिक्षण के दौरान इवीएम मशीन व वीवीपैट मशीन का प्रदर्शन कर स्वयं मतदान दल से करवाया जाए। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक गुप्ता ने कानून व्यवस्था के संबंध में लोकसभा के अंतर्गत एआरओ और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए कि एसएसटी और एफएसटी टीम को नियमित रूप से निगरानी रखकर कार्य करें। शेडो एरिया में विशेष निगरानी रखी जाए, बांड ओवर में कोई कमी न हो, पुलिस और सेक्टर मजिस्ट्रेट क्षेत्र का संयुक्त भ्रमण करें। चेक पोस्ट का आकस्मिक निरीक्षण हो एवं समय-समय पर क्रास चेक करते रहें। यह भी देखें कि वहां सीसीटीवी सही ढंग से कार्यरत है या नहीं। बैठक में मतदान सामग्री वितरण एवं वापसी के संबंध में भी चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए गए।

राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को सौंपी मतदाता सूची

स्टेंडिंग कमेटी की बैठक गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर अनय द्विवेदी ने ली। बैठक में सामान्य प्रेक्षक कृष्ण कुमार, सत्यप्रकाश पटेल और व्यय प्रेक्षक प्रदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, अपर कलेक्टर एसएल सिंघाडे सहित राजनैतिक दलों के प्रतिनिधिगण, व्यय नोडल अधिकारी आरएस गवली भी मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर द्विवेदी ने निर्देश दिए कि सभा की अनुमतियों के लिए संबंधित सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को आवेदन दें। समूचे लोकसभा क्षेत्र के लिए वाहन की अनुमति रिटर्निंग आफिसर कार्यालय से दी जाएगी। बैठक में सामान्य प्रेक्षक कृष्ण कुमार ने कहा कि सभी राजनैतिक दल आचार संहिता का पालन करते हुए कार्य करें। इस दौरान व्यय प्रेक्षक प्रदीप कुमार ने कहा कि व्यय खर्चा निर्वाचन आयोग के अनुसार लिमिट में किया जाए। पेमेंट चेक के माध्यम से किया जाए, जो कि उस खाते से हो जिसे निर्वाचन के उद्देश्य से खोला गया है और उसकी सूचना निर्वाचन कार्यालय को दी गई है। प्रत्येक खर्चे का बाउचर भी रखें। साथ ही आपको दिए गए रजिस्टर संधारण भी करें। इस दौरान उन्होंने कहा कि व्यय संबंधी कोई भी परेशानी हो तो उसके लिए जिला निर्वाचन कार्यालय या मेरे मोबाइल नंबर पर भी संपर्क किया जा सके। राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को कलेक्टर ने मतदाता सूची भी सौंपी।

मतगणना के लिए लगी टेबलों की दूरी बढ़ाएं : कलेक्टर

खंडवा। नवीन शासकीय महाविद्यालय नहाल्दा में मतदान सामग्री वितरण और मतगणना के लिए की जा रही प्रारंभिक व्यवस्थाओं का जायजा गुरुवार को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनय द्विवेदी ने पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह के साथ लिया।

इस अवसर पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी नंदा भलावे कुशरे, अपर कलेक्टर एसएल सिंघाडे, एसडीएम प्रमोद कुमार पांडे भी मौजूद थे। कलेक्टर ने यहां प्रवेश व निकास की व्यवस्थाओं के साथ ही स्ट्रांग रूम, मतगणना के लिए अलग-अलग बनाए गए मतगणना कक्ष, वहां कराई जा रही बेरिकेटिंग और दूसरी व्यवस्थाओं के संबंध में निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि मतगणना के लिए लगाई जाने वाली टेबलों की दूरी बढ़ाई जाए। वैसे ही मतदान सामग्री वितरण मतदान दलों को टेबल के माध्यम से किया जाए, जहां पर उन्हें सामग्री मुहैया कराई जाएगी। ख्याल रहे कि एक जगह कर्मचारियों को इक्कठा होकर सामग्री प्राप्त करने के लिए मशक्कत न करना पड़े।

व्यय प्रेक्षक ने ग्राम बोरखेड़ा चेक पोस्ट का किया निरीक्षण

व्यय प्रेक्षक प्रदीप कुमार ने बुधवार को विधानसभा क्षेत्र पंधाना के ग्राम बोरखेड़ा में स्थित एफएसटी दल का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। इस दौरान एफएसटी टीम को निर्देश दिए कि महाराष्ट्र एवं विधानसभा क्षेत्र में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों की जांच करें एवं कर्तव्यस्थ कर्मचारियों को सौंपे गए दायित्व का निर्वहन पूरी ईमानदारी से करना सुनिश्चित करें।

सामान्य प्रेक्षक ने क्रिटिकल मतदान केन्द्रों का किया निरीक्षण

सामान्य प्रेक्षक सत्यप्रकाश पटेल ने क्रिटिकल मतदान केंद्रों का भ्रमण कर वहां की व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने मतदान केंद्रों पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सेक्टर अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

विधानसभा क्षेत्र मांधाता के 28 सेक्टर अधिकारियों को जिले के नोडल अधिकारी नीरज पाराशर ने गुरुवार को डाकमत पत्र का प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण में बताया गया कि उप निर्वाचन में 80 साल की आयु से अधिक आयु के मतदाता, दिव्यांग मतदाता तथा कोविड-19 पाजिटिव, सस्पेक्टेड मतदाताओं को भी अनुपस्थित श्रेणी का मतदाता मानकर डाकमत पत्र के द्वारा मतदान कराया जाएगा। डाक मतपत्र देने की प्रक्रिया मतदान दल द्वारा मतदाता के घर पर जाकर की जाएगी तथा इस पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी। यदि कोई मतदाता सूचना के बाद भी घर पर अनुपस्थित रहता है तो उसके घर पर नोटिस चस्पा कर मतदाता को आगमन की अगली तारीख दी जाएगी तथा अवगत कराया जाएगा कि यदि वे उस दिनांक में अनुपस्थित रहा तो वह मतदान प्रक्रिया से वंचित हो जाएगा। इस अवसर पर मांधाता के तहसीलदार पाटीदार तथा मास्टर ट्रेनर अखिलेश वर्मा भी मौजूद थे।

मतदान दलों का रेंडमाइजेशन हुआ

लोकसभा उप निर्वाचन के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक कृष्ण कुमार, सत्यप्रकाश पटेल एवं कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनय द्विवेदी ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में मतदान दलों का रेंडमाइजेशन किया। उप जिला निर्वाचन अधिकारी एसएल सिंघाडे ने बताया कि इस रेंडमाइजेशन के माध्यम से जिले के 1080 मतदान केंद्रों के लिए विधानसभावार कर्मचारियों का चयन किया गया। इसमें 125 प्रतिशत कर्मचारियों को शामिल किया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local