खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोविड 19 टीकाकरण अभियान के तहत सोमवार को 98 केंद्रों पर 8825 लोगों को टीका लगाया गया। 16 जनवरी से शुरू हुए अभियान में यह सबसे अधिक संख्या है। 98 केंद्रों पर 6000 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। शाम पांच बजे तक 8825 लोगों ने टीका लगवाया। एक दिन में 147 फीसदी टीकाकरण किया गया। इसके पहले 91 फीसदी तक सबसे अधिक टीकाकरण हुआ था।

शहरी क्षेत्र में अग्रवाल धर्मशाला में अग्रवाल समाज व वैश्य समाज ने मिलकर टीकाकरण केंद्र जिला प्रशासन के सहयोग से आयोजित किया, जिसमें समाज के सदस्यों सहित अन्य लोगों ने भी टीकाकरण कराया। वैश्य समाज व अग्रवाल समाज के सदस्यों ने समाजजनों सहित आसपास के सभी लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया।

इधर जिला अस्पताल में भी सुबह से ही टीकाकरण के लिए लोगों की भीड़ रही। यहां पर शरीरिक दूरी का पालन करने के लिए गोले बनाए गए हैं, जिसमें खड़े रहने के लिए लोगों को समझाइश दी जाती रही। वहीं अनाउंसमेंट भी किया गया। शहरी क्षेत्र में जिला अस्पताल, राम नगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, हिंदुजा अस्पताल, गणेश तलाई में टीकाकरण किया गया।

- प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करते हुए सामाजिक स्तर पर सत्र लगवाया गया। कोरोना से बचाव के लिए जागरुकता कार्यक्रम आगे भी जारी रखेंगे। अपनी सुरक्षा के लिए गाइड लाइन का पालन जरूर करें।

-ओम प्रकाश अग्रवाल, जिला अध्यक्ष वैश्य समाज

- इस समय संक्रमण बढ़ रहा है। इसलिए 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोग टीका लगवाएं व गाइड लाइन का पालन करें। 45 वर्ष से कम वाले लोग विशेष ध्यान रखते हुए संक्रमित होने से बचें व दूसरों को भी सलाह दें।

-अनिल मित्तल, उपाध्यक्ष अग्रवाल समाज

- समाज के लोगों ने शिविर के माध्यम से टीकाकरण में पूर्ण सहयोग दिया। अन्य समाज से भी लोग आए व टीकाकरण कराया। हमारा प्रयास यह है कि सभी लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें व प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग का सहयोग करें।

-अखिलेश गुप्ता, जिला प्रभारी वैश्य समाज

- एक बार शुरू हुई जागरुᆬकता की यह कोशिश हम लगातार जारी रखेंगे। कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए शिविर में सभी ने सहयोग प्रदान किया। सभी लोग संक्रमण से बचे व सुरक्षित रहे।

-राजेंद्र गर्ग, कोषाध्यक्ष अग्रवाल समाज

45 साल से कम उम्र के लोगों को

टीका लगाने पर होगी कार्रवाई

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अपर संचालक डा. संतोष शुक्ला ने सभी सीएमएचओ व जिला टीकाकरण अधिकारियों को टीकाकरण प्रोटोकाल का पालन करने के आदेश दिए हैं। आदेश के अनुसार 45 साल से कम उम्र के नागरिकों को टीका अभी नहीं लगाया जाएगा। जिस व्यक्ति का जन्म एक जनवरी 1977 के पूर्व हुआ है, सिर्फ उन्हें ही टीका लगाया जाएगा। 45 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति का टीकाकरण किए जाने की शिकायत पर अस्पताल संचालक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। प्राइवेट अस्पताल के पंजीयन निरस्त करने की कार्रवाई भी की जा सकती है।

डा. शुक्ला ने निर्देश दिए हैं कि तीन अप्रैल के बाद किसी भी नए स्वास्थ्य कार्यकर्ता या फ्रंट लाइन कार्यकर्ता का नया पंजीयन नहीं किया जाए। इससे पूर्व पंजीकृत किए गए फ्रंट लाइन कार्यकर्ताओं का ही टीकाकरण किया जाए। ऐसे स्वास्थ्य कार्यकर्ता व फ्रंटलाइन कार्यकर्ता जिन्हें तीन अप्रैल के पूर्व टीकाकरण का प्रथम डोज दिया जा चुका है, उन्हें कोविशील्ड वैक्सीन का दूसरा टीका आठ सप्ताह के पूर्व तथा कोवैक्सीन का दूसरा टीका 4-6 सप्ताह के अंतराल से ही लगाया जाए। जिन अधिकारी कर्मचारियों ने निर्धारित समय सीमा में अभी तक वैक्सीन का दूसरा डोज नहीं लगवाया है, उन्हें स्मरण पत्र देकर दूसरा डोज समय सीमा में आवश्यक रूप से लगवाया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags