*आस्था : बड़वानी नगर सहित अंचल महादेव की भक्ति में रमा, हो रहे विविध आयोजन

बड़वानी/ओझर/बरुफाटक (नईदुनिया प्रतिनिधि)। श्रावण माह के समापन पर जगह-जगह धार्मिक आयोजन हो रहे हैं। कांवड़ यात्राओं का दौर जारी है। बोल बम के जयघोष लगाते हुए कांवड़यात्री जगह-जगह से गुजर रहे हैं। इन यात्रियों का स्वागत भी किया जा रहा है। श्रावण माह के अंतिम सोमवार को जगह-जगह शिवालयों में आकर्षक श्रृंगार हुए। श्रृंगार के दर्शनों के लिए देर रात तक भक्तों का तांता लगा रहा। भजनों पर भक्त थिरके और सारा वातावरण शिवमय हो गया।

ओझर में 80 कांवड़ियों का दल खलघाट से मां नर्मदा का जल लेकर पहुंचा। ओझर में डीजे व ढोलक की शिवमय धुन के साथ ही देशभक्ति के तराने गूंजे। बोल बम और भारत माता के जयघोष के साथ तिरंगा लेकर कांवड़ यात्री गुजरे। लोगों ने कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। यह कारवां शिखरधाम नागलवाड़ी के लिए रवाना हुआ। करीब 65 किमी का सफर तय कर भगवा कांवड़ यात्रा ने 2 स्थानों पर रात्रि विश्राम करके ढाई दिन में यह यात्रा पूरी की।

बीते कई वर्षों से जारी इस यात्रा का ओझर में 40 से अधिक स्थानों पर पुष्प वर्षा और मालाओं से अभिवादन किया गया। यात्रा के दौरान ग्राम के नागरिकों ने उल्लास के साथ बड़ी संख्या में भाग लिया। इसके पूर्व भाजपा नेता दिनेश यादव, अंतर पटेल, अजय यादव, दीपक शर्मा, शशिकांत शाहू आदि ने वल्लभदास जिनिंग परिसर में कावड़ का पूजन किया। कावड़ यात्रियों के लिए साबूदाना खिचड़ी व की व्यवस्था की गई। वहीं 15 किमी के शेष रास्ते मे कई स्थानों पर जलपान कराया गया है। यात्रा के संयोजक नगर युवा भाजपा और सांईभक्त मंडल ने बताया कि यात्रा का उद्देश्य धर्म जन जागरण और देश भक्ति के जज्बे बढ़ाना है। शिखरधाम नागलवाड़ी पहुंचकर कांवड़ियों ने यहां स्थित भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक किया व भीलटदेव के दर्शन किए ।

जयघोष के साथ ग्राम में पहुंची कांवड़ यात्रा

बरुफाटक। पवन अग्रवाल मित्र मंडल बरुफाटक के तत्वावधान में कांवड़ यात्रा का आयोजन किया गया। समाजसेवी पवन अग्रवाल ने बताया कि यात्रा का यह 29 वां वर्ष से है। 29 वर्षों से लगातार पैदल कांवड़ यात्रा निकाल रहे हैं। सुबह से वाहनों से नर्मदा तट खलघाट पहुचकर मां नर्मदा का पूजन अर्चन कर आरती के बाद जल अपनी कांवड़ों में भर कर निकलते हैं। करीब 30 किलोमीटर की कावड़ यात्रा में कसरावद फाटा, निमरानी मगरखेड़ी, ठीकरी, खुरमपुरा होकर पैदल कावड़ यात्रा निकाली गई। इस दौरान यात्रा में करीब 300 महिलाएं एवं पुरुष सहित नन्हे बच्चे भी पैदल कावड़ यात्रा में शामिल थे। डीजे की धुन पर नाचते-झूमते यात्रा चल रही थी। इस दौरान यात्रा का जगह जगह स्वागत किया गया। किसी ने पुष्प वर्षा कर तो किसी ने स्वल्पाहार, चाय से यात्रा ने स्वागत किया। निमरानी में मयूर मित्तल द्वारा खिचड़ी प्रसादी , मराल फाटा पर सौरभ गर्ग द्वारा चाय प्रसादी, मगरखेड़ी में मुकेश अग्रवाल द्वारा कुल्फी ,ठीकरी में सुमित जायसवाल मित्रमंडल, टीनिया सेठ, निस्वार्थ सेवा समिति , पलाश जायसवाल , कशयप राठौड़ ने स्वागत स्टाल लगाए, वहीं खुरमपुरा में गोपाल खंडेलवाल एवं अजय खंडेलवाल ने स्वागत स्टाल लगाकर यात्रा का स्वागत किया। शाम को यात्रा बरुफाटक पहुंची। यहां चल समारोह निकाला गया। इसमें मुख्य रूप से दीपक शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष बलवंत सिंह पटेल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजू बाबा अंतरसिंह पटेल, जिला महामंत्री अजय यादव आदि भी शामिल हुए।

तिरंगे से सजे महादेव

बड़वानी के झंडा चौक स्थित कुसुंबेश्वर महादेव मंदिर में तिरंगे के स्वरूप में भगवान का नयनाभिराम श्रृंगार किया गया। प्राचीन मंदिर में श्रृंगार के दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। इसी तरह नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर गुरवा मोहल्ला में बाबा बर्फानी का दिव्य श्रृंगार बालिका हर्षिता ठाकुर, राधा, आयुषी, कोमल , प्रितिका, प्रीति, काजल, ममता, राकेश, बबन, हैप्पी ने श्रावण माह में तृतीय सोमवार को आकर्षक श्रृंगार किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close