*यातायात और नपा अमले ने की कार्रवाई, तय दायरे में वाहन लगाने की दी हिदायत

खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में रविवार को सड़क पर सजने वाले बाइक बाजार पर आखिरकार प्रशासन की नजर पड़ी। दिनभर होने वाली आवाजाही को नजरअंदाज कर आटो डील संचालकों द्वारा सड़कों पर शोरूम की तरह सजाई जाने वाली बाइकों को यातायात विभाग ने कार्रवाई की जद में लिया है। वहीं कई आटो डील संचालकों ने अमले के पहुंचने से पहले ही वाहन सड़क से हटा लिए।

रविवार को नपा अमले के साथ यातायात अमला आटो डील सेंटरों पर पहुंचा। यहां कमीशन बेस पर पुराने दो पहिया वाहन बेचने वाले दुकानदारों से न केवल बाइकों के दस्तावेज मांगे गए, अपितु नो-पार्किंग में सड़कों पर वाहन लगाने पर फटकार लगाते हुए चालानी कार्रवाई भी की। सुबह करीब 11 बजे यातायात थाना प्रभारी दीपेंद्र स्वर्णकार, एएसआइ राजेश शाह, विजय तिवारी व नपा प्रभारी राजस्व अधिकारी महेश वर्मा आदि बस स्टैंड क्षेत्र में संचालित हो रहे बाइक आटो डील सेंटरों पर पहुंचे। अमले के पहुंचने पर संचालक सकते में आ गए। उन्होंने अधिकारियों से मिन्नातें भी की, नपा द्वारा बाजार बैठक की दी गई रसीदों का हवाला भी दिया, लेकिन नजरअंदाज कर दुकान के दायरे में वाहन लगाने के निर्देश दिए। सड़कों पर खड़े वाहनों पर 500-500 रुपये जुर्माना लगाया।

---

10 बाइक के बनाए चालान, दस्तावेज भी मांगे

यातायात प्रभारी स्वर्णकार ने बताया कि करीब चार बाइक डील सेंटरों पर कार्रवाई की गई। कार्रवाई देख कुछ सेंटर संचालक सतर्क हो गए और अपने वाहन हटा लिए। इन डील सेंटरों की लंबे समय से शिकायतें मिल रही थीं। यातायात में बाधा के साथ ही वाहनों के दस्तावेज संबंधी जांच भी कराई जा रही है। कई बार चोरी के वाहन भी बिकने आ जाते हैं। कार्रवाई के दौरान मौके पर कोई डील संचालक दस्तावेज नहीं दिखा सका। 10 बाइक के नो पार्किंग के 500-500 रुपये और एक बाइक बिना बीमा के होने पर एक हजार रुपये का चालान बनाया, जबकि चार बाइक के दस्तावेज नहीं होने पर उन्हें थाने पर अभिरक्षा में खड़ा किया है। दस्तावेजों की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close