खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्वामी विवेकानंद सभागृह में रविवार को जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समूह की बैठक हुई। इसमें धर्मगुरुओं और विभिन्ना व्यापारिक संघों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए। बैठक में आगामी समय में आयोजित होने वाली शादियों को कोरोना संक्रमण से मुक्त रखने के लिए बात की गई। कलेक्टर अनुग्रह पी ने सभी सदस्यों को सुझाव के साथ-साथ निर्देशों का पालन करने की बात कही। सदस्य ओम पाटीदार, कल्याण अग्रवाल और कपिल महाजन ने कहा कि धर्मशालाओं व गार्डनों में आयोजित होने वाली शादियों के लिए अधिकतम 500 या परिसर की क्षमता के अुनरूप 50 प्रतिशत लोगों को शामिल होने की अनुमति दी जाए। इसके अलावा नियमों का पालन नहीं करने पर मांगलिक परिसर या धर्मशाला के ऑनर तथा शादी के आयोजक को ही जिम्मेदारी देते हुए सदस्यों ने जुर्माने की कार्रवाई पर सहमति दी। कलेक्टर ने राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने क्षेत्रों में धर्मशाला और मैरिज गार्डन की सूची बनाएं और क्षमता के अनुरूप ही शादियों में लोग मौजूद रहें। साथ ही शादियों के दौरान गेट पर मास्क और टेंप्रेचर की जांच के लिए अनिवार्य रूप से स्टॉल लगाए जाएं। बिना मास्क और शारीरिक दूरी के पाए जाने पर धर्मशालाओं के ऑनर व आयोजक पर एक हजार रुपये, छोटे गार्डन में दो हजार और बड़े गार्डन पर 5 हजार रुपये की चालानी कार्रवाई की जाए। बसों में बिना मास्क के पाए जाने पर बस मालिक पर 1 हजार और पैसेंजर पर 100 रुपये, ऑटो और छोटे वाहन संचालक पर 500 रुपये और दुकानदार पर भी 1 हजार रुपये का जुर्माना होगा।

हाट बाजारों में 6-6 फीट की दूरी में लगेंगी दुकानें

बैठक में उपस्थित सदस्यों ने ग्रामीण अंचलों में आयोजित होने वाले हॉट बाजारों तथा मास्क की उपयोगिता को लेकर भी अपनी बात रखी। कलेक्टर अनुग्रह ने समस्त एसडीएम व जनपद सीईओ को निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों के हाट बाजारों में 6-6 फीट की दूरी पर दुकानें लगाई जा सकेंगी और हाट बाजारों में निगरानी ग्राम पंचायत सचिव व ग्राम रोजगार सहायक द्वारा की जाएगी। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में मास्क के लिए स्व सहायता समूह की दुकानें लगाई जाएं। मास्क और शारीरिक दूरी को लेकर एसडीएम और सीएमओ स्थानीय स्तर पर बैठक आयोजित करें। कुछ सदस्यों ने बिना मास्क के घूमने वालों पर 100 रुपये की राशि बढ़ाने की बात कही। विधायक रवि जोशी ने कहा कि कुछ वर्ग के लिए 100 रुपये भी भारी पड़ते हैं। इसलिए 100 रुपये ठीक है, लेकिन चालान काटने की संख्या बढ़ा दी जाए। विधायक ने कहा कि रात्रि 10 बजे के बाद लोग घरों के बाहर नहीं निकल रहे हैं। इसलिए रात्रिकालीन कर्फ्यू की आवश्यकता नहीं है। जिले में आयोजित होने वाली पंचक्रोशी यात्रा और आयोजित होने वाले मेले प्रतिबंधित रहेंगे।

कंट्रोल करने का यही सही समय

पुलिस अधीक्षक शैलेंद्रसिंह चौहान ने कहा कि कंट्रोल करने का यही सही समय है। सभी मिलकर कार्य करें, तो कोरोना हमारे घर तक नहीं पहुंचेगा। बैठक में अपर कलेक्टर बीएस सोलंकी, एमएल कनेल, एसडीएम सत्येंद्रसिंह, सीएमएचओ डॉ. रजनी डावर, सिविल सर्जन, डॉ. राजेंद्र जोशी, सीएमओ प्रियंका पटेल, डॉ. रेवाराम कोसले, जन अभियान परिषद के विजय शर्मा, सदस्य डॉ. अजय जैन, समाजसेवी अनिल रघुवंशी, अलताफ आजाद, शैलेष महाजन, धर्मगुरु रमेश पाटीदार, जगदीश ठक्कर, कैलाश डावर, विवेक जैन, जैनुद्दीन बादशाह, पं. प्रितेश मिश्र, पं. आनंदस्वरूप मलतारे, अंतिम गोस्वामी, फादर आशीष डावर, व्यवसायी कपिल महाजन आदि मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस