खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। महज खांसी-बुखार गले में दर्द और कमजोरी से 46 वर्षीय जैतापुर निवासी पन्नाालाल अपने मन से टूटते नजर आ रहे थे। घर पर चार से पांच दिनों तक सहन करते रहे। आखिरकार कोई आराम न होता देख बेटा विकास उन्हें निजी अस्पताल में उपचार के लिए ले गया। पन्नाालाल का गिरता आक्सीजन सेच्युरेशन 63 पर आ गया तो, निजी अस्पताल ने भर्ती करने से मना कर दिया। ऐसे हालात में कुछ परिचितों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराने में हिम्मत बढ़ाई। तब तक पन्नाालाल मरना तय मान कर टूट चुके थे, लेकिन अस्पताल जाते ही डाक्टरों ने मरीज की अंतिम सांस को टूटने नहीं दिया। जब पन्नाालाल 26 अप्रैल को भर्ती हुए थे तब उनका संक्रमण 25 से 30 प्रतिशत हो चुका था। आक्सीजन लेवल 63 और सीआरपी 53 एमजी प्रति लीटर हो चुका था। अस्पताल में डाक्टरों की दवाई और उपचार का कुछ असर हुआ तो उनका आक्सीजन सेच्युरेशन 70 हो गया। तब बेटा विकास हिम्मत से काम लेने और हाथों में हाथ थामकर दिलासा दिलाते रहा। पन्नाालाल ने बेटे के विश्वास पर भरोसा करते हुए हिम्मत व हौंसले से काम लिया। इसके बाद जो हुआ वो किसी चमत्कार से कम नहीं। एक मई को उनका आक्सीजन सेच्युरेशन 90 से ऊपर व 2 मई को 97 तक पहुंच गया। घर जाते समय पन्नाालाल ने कहा कि विश्वास और हिम्मत से हर कोई इंसान इस बीमारी से लड़ सकता है। इंसान की हिम्मत के आगे ये बीमारी कुछ नहीं।

भीकनगांव व सनावद सीसी सेंटर से मरीज स्वस्थ होकर लौटे

इधर भीकनगांव के सीसी सेंटर के एक मरीज ने हिम्मत दिखाई तो वो भी सामान्य उपचार के बाद स्वस्थ हुए और घर लौट गए। मैकेनिक प्रकाश निंबालकर 17 अप्रैल को हाथ पैर दर्द कमजोरी और हल्की खांसी होने पर तुरंत अस्पताल पहुंचे। डाक्टरों ने सीसी सेंटर में भर्ती किया और सैंपल लिया। 19 अप्रैल को पाजिटिव रिपोर्ट आई, लेकिन तब तक उपचार शुरू हो चुका था। लिहाजा उनको ज्यादा संक्रमण नहीं हो पाया। प्रकाश के स्वास्थ में सुधार देख 20 अप्रैल को छुट्टी देते हुए घर पर आइसोलेशन का पालन करने की समझाइश देकर डिस्चार्ज किया गया। इसके अलावा सनावद में बनाए गए सीसी सेंटर में कुलदीप पुत्र अर्जुन को 28 अप्रैल व हिम्मतसिंह पुत्र किशोर को 23 अप्रैल को भर्ती किया था। इन दोनों को गुरुवार को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। इस दौरान उन्हें पौधा देकर सीसी सेंटर से विदा किया। इस दौरान सीसी सेंटर से अभी तक कुल 16 व्यक्ति स्वस्थ होकर अपने घर लौटे है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags