मंडलेश्वर (नईदुनिया न्यूज)। महेश्वर तहसील के अंतर्गत आने वाले ग्राम बड़दिया के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर करीब आठ वर्षों से बिजली नहीं थी। इससे व्यवस्थाएं गड़बड़ाई हुई थीं। अस्पताल कर्मचारियों द्वारा बार-बार जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों के पास बिजली की समस्या का निराकरण करने के लिए गुहार लगाई गई, पर कोई सुनवाई नहीं हुई। गर्मी के दिनों में भी स्वास्थ्य कर्मचारियों को बिना बिजली के काम करना पड़ता था। दवाइयों और इंजेक्शन आदि को उचित तापमान के अभाव में सुरक्षित रखना उनके लिए चुनौतीपूर्ण था। ऐसे में अतिरिक्त तहसीलदार राहुल डावर ने इस कोरोनाकाल को देखते हुए स्वयं रुचि लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बिजली की व्यवस्था करवाई। इस पर स्वास्थ्य केंद्र के स्टाफ के साथ ग्रामीणों में हर्ष है। तहसीलदार डावर ने चर्चा के दौरान बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में गत आठ वर्षों से बिजली बिल की बकाया राशि न भरने के कारण कंपनी द्वारा कनेक्शन कटा दिया गया था। वर्तमान महामारी के समय किल कोरोना अभियान के अंतर्गत ये मामला जानकारी में आया तो तत्काल इस संदर्भ में क्षेत्र के सांसद प्रतिनिधि गुलाबचंद पाटीदार से चर्चा की। उन्होंने भी मुझे आश्वस्त किया कि जल्द ही सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। फिलहाल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बिजली का कनेक्शन वापस जोड़ दिया गया है। अब कोरोनाकाल में मरीजों को कोई परेशानी नहीं होगी। जानकारी के अनुसार अस्पताल का निर्माण 14 वर्ष पूर्व हुआ था। अस्पताल में बिजली बिल के करीब दो लाख रुपये बकाया थे। इसमें से अस्पताल द्वारा 60 से 65 हजार रुपये ही जमा किए गए थे। अब भी अस्पताल पर करीब 1 लाख 40 हजार रुपये बकाया है।

बिजली नहीं होंने से दवाइयां हो जाती थीं खराब

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर फार्मासिस्ट के पद पर कार्यरत मनीषा सिंह राजावत ने बताया कि स्वास्थ्य केंद्र पर बिजली नहीं होने के कारण कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता था। टीकाकरण के अंतर्गत उपयोग में आने वाले टीके उचित तापमान के अभाव में समय से पूर्व खराब हो जाते थे। उन्होंने इसकी जानकारी विभाग के सभी अधिकारियों को दे थी। अतिरिक्त तहसीलदार के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के दौरान इस समस्या से उन्हें अवगत करवाया गया। इसके चलते उन्होंने व्यक्तिगत पहल कर केंद्र पर बिजली की व्यवस्था करवाई है। अस्पताल में बिजली के साथ पेयजल की भी बहुत समस्या है। स्वास्थ्यकर्मियों और ग्रामीणों ने अस्पताल परिसर के आसपास हैंडपंप लगाने की भी मांग जनप्रतिनिधियों और जिला प्रशासन से की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags