खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला अस्पताल परिसर में लगे दो दिवसीय स्वास्थ्य शिविर में करीब दो हजार से अधिक रोगियों ने स्वास्थ्य लाभ लिया। इसमें खासकर उन रोगियों और उनके परिजनों को राहत मिली जो गंभीर बीमारियों जैसे दिल में छेद, हृ़दय रोग, जन्मजात गंभीर बीमारी, भेंगापन, बेहरापन, कटे होंठ, तालू आदि से ग्रसित थे। यहां विशेषज्ञ चिकित्सकों ने सघन जांच के बाद जब आपरेशन से बीमारी दूर होने का आश्वासन दिया तो मरीज सहित उनके परिजनों ने राहत महसूस की।

इंदौर अरविंदो अस्पताल के प्लास्टिक सर्जन डा. मोहक जैन ने बताया कि शिविर के दौरान तीन वर्षीय अक्षत सुनील बड़ोले के दोनों हाथों की ऊंगलियां टेडी होकर आपस में चिपकी हुई हैं, उसे आपरेशन के लिए चिंहित किया है। अक्षत की मां बिंदिया ने बताया कि वह धुलकोट निवासी होकर आंगनवाडी सहायिका हैं। बेटे को जन्म से ऊंगलिया जुड़ी होने की समस्या है। हाथ ठीक से काम नहीं करते। शिविर में जांच कराने पर चिकित्सक ने आपरेशन के बाद ऊंगलियां अलग होकर स्वस्थ होने का आश्वासन दिया है। बिंदिया के मुताबिक यह पारिवारिक बीमारी है। अक्षत के पिता और दादा को भी यह समस्या है। इसके अलावा चार वर्षीय राजश्री निवासी अंदड़ व सात वर्षीय चांदनी निवासी ग्राम रेगवा के जन्मजात कान नहीं होने, महिमा निवासी काल्यापानी को तालू आपरेशन के लिए चिंहित किया है। योगिता पुत्री विक्रम निवासी कसरावद को उसकी दादी रेवाबाई आंख के भेंगापन की समस्या को लेकर शिविर में पहुंची थी। शिविर के दौरान मरीजों को निश्शुल्क दवाईयां भी वितरित की गई। चिकित्सकों ने बताया कि आयुष्मान योजना के तहत निश्शुल्क आपरेशन किए जा सकेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close