ऊन। शनिवार की रात से शुरू हुई बारिश से किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा। किसान श्रीराम पटेल, कमल पटेल, देवराम गुर्जर ने बताया कि खेतों में फसलें पककर तैयार है। फसल को काटकर सुखाया जा रहा है। बारिश से फसल को नुकसान पहुंचा। महालक्ष्मी मंदिर के सामने मैदान पर सूखने के लिए रखी मिर्च बारिश से भीग गई। किसानों ने बताया कि पहले ही मिर्च के भाव कम मिल रहे हैं। मिर्च भीगने से भाव कम मिलेंगे।

कपास की फसल को पहुंचा नुकसान

पिपल्याबुजुर्ग। शनिवार रात 8ः30 बजे अचानक आंधी के साथ बारिश हुई जो देर रात तक जारी रही। विद्युत प्रदाय बंद हो गया। कपास की फसल खेतों में तैयार है। बारिश से कपास की फसल को नुकसान पहुंचा। पिछले दो वर्षों से मौसम की प्रतिकूलता के कारण किसानों को नुकसान हो रहा है। किसान नारायण बर्फा, नरेंद्र सोलंकी ने कहा कि बारिश से सबसे ज्यादा कपास की फसल को नुकसान पहुंचा।

मिर्च की फसल को पहुंचा नुकसान

लोनारा। शनिवार रात से रविवार दिनभर तक बारिश होती रही। बारिश से किसान और मिर्च की फसल को नुकसान हो रहा है। किसानों ने हरी मिर्च का भाव कम मिलने के कारण मिर्च सूखने को रखी थी। बारिश से मिर्च की फसल को नुकसान हुआ। कृषक आयुष पटेल, महिमाराम लेवा आदि ने बताया कि मिर्च की फसल खराब होने से आधा भाव भी मुश्किल से मिल सकेगा। कपास के दाम भी कम मिलेंगे।

बारिश से नगर तरबतर

महेश्वर। दो दिन से हो रही बारिश के कारण नगर तरबतर हो गया। बारिश से तपती गर्मी व उमस से राहत मिली। मौसम में ठंडक घुल गई। बारिश जाने के बाद लोगों ने छाते रख दिए थे। परंतु बारिश से बचाव के लिए लोगों ने छाते और रेन कोट निकालकर उनका उपयोग किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local