बामंदी। ग्राम में शनिवार को भगवान आदिनाथ व शांतिनाथ की अष्टधातु की मूर्तियों का मंगल प्रवेश हुआ। समाजजन व ग्रामीणों ने भगवान का भव्य स्वागत किया। ढोल तासो के साथ दोनों मूर्तियों को प्रमुख बाजार से कार्यक्रम स्थल तक धूमधाम से ले जाया गया। भगवान आदिनाथ व शांतिनाथ के साथ भगवान पार्श्वनाथ व श्रीयंत्र को पालकी में विराजमान कर नगर भ्रमण करवाते हुए कार्यक्रम स्थल कुनबी पटेल स्कूल प्रांगण में ले जाया गया। घट यात्रा में सर पर स्वर्ण कलश व रजत कलश रखकर महिलाएं चल रही थीं। बच्चे हाथों में धर्म ध्वज लहराते चल रहे थे। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचकर अभिषेक, शांतिधारा व ध्वजारोहण किया गया। बड़ी संख्या में समाजजन झूमते गाते नजर आए। पश्चात रात्रि आठ बजे संगीतमय आरती करने के बाद भक्तांबर आराधना की गई। बड़वाह से आए गायक व संगीतकार कमल भैया ने भजन संध्या में भजनों की प्रस्तुति दी। समाज अध्यक्ष प्रशांत जैन, दीपक जैन, पंकज जैन, विकास जैन, संदीप जैन आदि समाजजनों ने बताया कि रविवार को सुबह से ही धार्मिक कार्यक्रमों की शुरुआत हो जाएगी। दिनभर धार्मिक कार्यक्रमों के बाद भगवान आदिनाथ व शांतिनाथ की अष्टधातु की प्रतिमाओं को मंदिर में स्थापित किया जाएगा।

हाईस्कूल में मनाया गया प्रवेशोत्सव

पिपल्याबुजुर्ग। ग्राम बड़दिया सुर्ता की हाईस्कूल में प्रवेशोत्सव उल्लास के साथ मनाया गया। प्राचार्य हिम्मत सिटोले ने विद्यार्थियों से कहा कि नियमित अध्ययन और लक्ष्‌य के प्रति एकाग्रता से आप बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं। जब आप अपने भविष्य और उसके मार्ग के प्रति जागरूक हो जाते हैं तो निश्चित ही सफलता आपको प्राप्त होती है। आज विद्यालय आरंभ होने के दिन जो आपका उत्साह है वह पूरे वर्ष बने रहेगा तो आप उस लक्ष्‌य को प्राप्त करेंगे जो सफलता का मापदंड होता है। नवागत विद्यार्थियों का तिलक लगाकर स्वागत किया गया। उनके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। इस अवसर पर गोविंद गौर, अविनाश रोकड़े, मोनिका चावड़ा, मनीषा गोस्वामी आदि उपस्थित थे।

मलेरिया रथ को किया रवाना

भगवानपुरा। नगर के शासकीय अस्पतालय में डा. शीतल डुडवे ने मलेरिया जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रथ विकासखंड के ग्रामों में जाकर लोगों को जागरुक करेगा। इस अवसर पर स्वास्थ्यकर्मी मौजूद थे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close