प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए 31 जुलाई तक किसान कर सकते हैं आवेदन

खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ मौसम में अधिसूचित फसलों का बीमा ऋणी व अऋणी कृषक 31 जुलाई 2022 तक करवा सकते हैं। इस बार कपास की फसल के लिए किसानों को फसल ऋणमान का पांच प्रतिशत प्रीमियम जमा करना होगा, जबकि अन्य नौ फसलों के लिए दो प्रतिशत प्रीमियम जमा करना होगा।

कृषि उपसंचालक एमएल चौहान ने बताया कि अऋणी कृषक अधिसूचित फसलों का बीमा बैंक, लोक सेवा केंद्र या फसल बीमा पोर्टल पर जाकर स्वयं सोयाबीन, मक्का, कपास, ज्वार, बाजरा, अरहर, मूंगफली, मूंग व उड़द फसल का बीमा करा सकते हैं। ऋणी कृषकों का बीमा संबंधित बैंकों के माध्यम से किया जाएगा। भारत सरकार द्वारा कृषकों को बीमा के लिए योजना को ऐच्छिक किया गया है। इसी अनुक्रम में योजना में प्रविधान किया गया है कि अल्पकालिक फसल ऋण लेने वाले ऋणी कृषक जो अपनी फसलों का बीमा नहीं करवाना चाहते, वे बीमांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2022 से दो दिन पहले 29 जुलाई 2022 तक संबंधित बैंक को निर्धारित प्रपत्र में लिखित में आवेदन भरकर योजना से बाहर जा सकते हैं।

56 प्रतिशत हो चुकी है बोवनी

जिले में खरीफ सीजन में बोवनी की रफ्तार तेज हो गई है। गुरुवार को जिले में लक्ष्‌य के अनुरूप करीब 56 प्रतिशत बोवनी पूरी हो चुकी है। कृषि विभाग ने इस वर्ष चार लाख 16 हजार 700 हेक्टेयर में बोवनी का लक्ष्‌य रखा है। अब तक दो लाख 30 हजार 338 हेक्टेयर में बोवनी हो चुकी है। उपसंचालक कृषि चौहान ने गुरुवार को भगवानुपरा क्षेत्र का दौरा किया। उन्होंने बन्हेर में रमेशचंद्र उमरावसिंह के खेत में बोवनी का निरीक्षण किया। जहां किसानों को फसल बीमा योजना के बारे में जानकारी दी।

जिले में प्रमुख फसलों की बोवनी एक नजर में

फसल लक्ष्‌य अब तक बोवनी

कपास 200000 171000

सोयाबीन 70000 21130

मक्का 81000 35103

ज्वार 3500 705

बाजरा 150 2

उड़द 600 28

मूंग 1500 280

अरहर 5000 1710

मूंगफली 1200 230

(आंकड़े कृषि विभाग के अनुसार हेक्टेयर में)

फसलवार बीमा राशि एक नजर में

फसल का नाम फसल ऋणमान प्रीमियम दर प्रीमियम राशि

मूंग, चवला 18000 2 360

उड़द 18000 2 360

कपास 66000 5 3300

ज्वार 15500 2 310

मूंगफली 23000 2 460

अरहर 32000 2 480

मक्का 25000 2 500

सोयाबीन 25000 2 500

बाजरा 10000 2 200

(राशि व रकबा कृषि विभाग के अनुसार)

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close