*अधिष्ठाता भगवान श्री सिद्घनाथ महादेव शाही ठाठ-बाट के साथ करेंगे नगर भ्रमण

*सार्वजनिक श्रावण मास समारोह आयोजन समिति की बैठक में लिए गए निर्णय

खरगोन। अधिष्ठाता भगवान श्री सिद्घनाथ महादेव परंपरानुसार व परंपरागत मार्ग पर भादौ बदी दूज, शनिवार 13 अगस्त को शाही ठाठ-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकलेंगे। मुख्य झांकी के साथ अन्य झांकियां, अखाड़े, नृत्य दल, साउंड सिस्टम शिवडोला की शोभा बढ़ाएंगे। समूचे शिवडोला मार्ग पर विभिन्न संगठनों द्वारा सेवा स्टाल लगाए जाएंगे। इससे पूर्व 13 जुलाई गुरु पूर्णिमा से मंदिर में श्रावण मास की नित्य पूजन, आरती आदि धार्मिक अनुष्ठान होंगे।

रविवार दोपहर नगर के भावसार मोहल्ला स्थित श्री सिद्घनाथ महादेव मंदिर पर सार्वजनिक श्रावण मास समारोह आयोजन समिति श्री सिद्घनाथ महादेव मंदिर खरगोन की बैठक समिति अध्यक्ष नवनीतलाल भंडारी की अध्यक्षता में हुई। इसमें समिति संरक्षक मनोहर भावसार, नीलेश भावसार, सुरेश भावसार, उपाध्यक्ष गुलाबचंद भावसार, डा. मोहन भावसार, मधु भावसार, राजेश भावसार, सचिव विनीत महाजन, रवि महाजन, हरिओम राठौर, गोविंद भावसार, श्याम महाजन कालू, नाना यादव, लोकेश भावसार, सहसचिव रवि धारे, राजू जैन, चेतन भावसार, प्रवक्ता प्रकाश भावसार, सह मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र भावसार लाला, जितेंद्र भावसार, समिति पुजारी पंडित राजू महाराज पगारे, सदस्य श्रीकृष्ण धारे, अभिषेक भावसार, प्रितेश महाजन, शैलेंद्र भावसार, कमल वर्मा, महेंद्र भावसार, गौरव भावसार, अप्पू, दिलीप भावसार, संतोष भावसार अंगु, तुषार भावसार, श्याम भावसार, अजय भावसार, हर्ष भावसार, हरीश गोस्वामी, रितिक धारे, ऋषि भावसार, निखिल भावसार, रजत धारे आदि की उपस्थिति में हुई बैठक में विभिन्न बिंदुओं पर विचार-विमर्श किया गया। भंडारी ने उपस्थित सदस्यों व पदाधिकारियों को बैठक में लिए निर्णय से अवगत कराया।

ये लिए निर्णय

- 13 जुलाई से प्रतिदिन रात्रि नौ बजे श्रावण मास की नित्य महाआरती होगी।

- गर्भगृह में प्रातः आठ से 11 बजे तक अभिषेक नहीं होगा। इस दौरान नंदी हाल में अभिषेक कर सकेंगे।

- शिवडोला समिति द्वारा गर्भगृह में अभिषेक, पूजन एवं पालकी के प्रस्थान के दौरान मंदिर व शिवडोला समिति के पदाधिकारी ही उपस्थित रहेंगे। व्यवस्था की दृष्टि से अन्य श्रद्घालुओं का प्रवेश निषेध रहेगा।

- शिवडोले में आपत्तिजनक गीत व फिल्मी गाने प्रतिबंधित रहेंगे।

- मुख्य झांकी को छोड़कर अन्य झांकी, अखाड़े, नृत्य दल, साउंड सिस्टम आदि बावड़ी बस स्टैंड से शिवडोला में शामिल होंगे।

- शिवडोला भ्रमण मार्ग में श्रद्घालुओं द्वारा मुख्य झांकी पर कर्पूर आरती ही की जा सकेगी।

- शिवलिंग का श्रृंगार प्राकृतिक व सात्विक वस्तुओं से ही होगा। श्रंगार में रासायनिक वस्तुओं, सेंट, स्प्रे आदि का प्रयोग वर्जित रहेगा।

- श्रावण मास के चौथे सोमवार 8 अगस्त को रुद्राक्ष मित्रमंडल द्वारा परंपरानुसार प्रातः चार बजे से ओंकार आरती की जाएगी।

----

ये रहेगा शिवडोला मार्ग

श्री सिद्घनाथ महादेव मंदिर से भादौ वदी दूज, शनिवार 13 अगस्त को प्रातः 9ः30 बजे पूजा-अर्चना, आरती पश्चात शिवडोला प्रारंभ होगा। शिवडोला भावसार धर्मशाला, बावड़ी बस स्टैंड, डायवर्शन रोड, गायत्री मंदिर तिराहा, फव्वारा चौक बस स्टैंड, सोनी प्रतिमा तिराहा, बिस्टान रोड तिराहा, श्रीकृष्ण टाकीज चौराहा, पोस्ट आफिस चौराहा, गोल बिल्डिंग, सराफा बाजार, झंडा चौक होते हुए पुनः श्री सिद्घनाथ महादेव मंदिर पहुंचेगा। आरती के बाद शिवडोले का समापन होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close