खरगोन। शहर के अधिष्ठाता श्री सिद्धनाथ महादेव ने शनिवार को शहर भ्रमण कर प्रजा का हाल जाना। सुबह से ही रिमझिम बारिश के बीच बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होने लगे थे। सुबह 10 बजे भावसार मोहल्ला स्थित श्री सिद्धनाथ महादेव मंदिर से भगवान भोलेनाथ को पालकी में विराजित कर भावसार धर्मशाला तक लाया गया।

यहां भगवान को आकर्षक झांकी में विराजित किया गया। मल्लीवाल परिवार के सदस्यों के साथ विधायक बालकृष्ण पाटीदार, शिवडोला समिति अध्यक्ष नवनीत भंडारी ने पूजा-अर्चना की। इसके बाद भगवान सिद्धनाथ ढोल, ताशों, नगाड़ों की गूंज के साथ शहर भ्रमण पर निकले। रास्ते में झांकियां, अखाड़े, नृत्य दल शामिल हुए। यहां से शिवडोला डायवर्शन रोड होते हुए पारंपरिक मार्ग पर आगे बढ़ा। शनिवार को घोषित अवकाश के साथ ही व्यापारियों ने स्वेच्छा से प्रतिष्ठान बंद रखे।

श्रद्धालुओं के स्वागत व सत्कार के लिए शहर में 50 से अधिक सेवा मंच लगाए गए। पोहे, भजिए, आलूबड़े के स्वल्पाहार की व्यवस्था थी, तो कहीं शरबत व शुद्ध जल से नागरिकों की प्यास बुझाई गई। सुरक्षा व्यवस्था के लिए 7 जिलों का पुलिस बल तैनात रहा। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के लिए कैमरे लगाए गए। शिवडोले के लिए शहर से जुड़ने वाले प्रमुख पांच मार्गों पर यातायात रोका गया। दोपहर 2 बजे तक 50 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने दर्शन किए।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags