पेज की लीड

-08केएचआर-09-मंडलेश्वर में शुभलग्न के उपरांत पूजन करते हुए संत। -नईदुनिया

-08केएचआर-10-मंडलेश्वर में विवाह समारोह में शाही भोज का आनंद लेते श्रद्धालु। -नईदुनिया

-08केएचआर 15 - मंडलेश्वर में श्रीराम की बारात में शामिल श्रद्धालु। -सौजन्य राजेंद्र जोशी

- अभिजीत मुहूर्त में हुआ भगवान श्रीराम जानकी का शुभलग्न

मंडलेश्वर (नईदुनिया न्यूज)। श्री सीताराम शिव संकल्प संस्थानम के तत्वाधान में श्रीराम जानकी विवाह महोत्सव बुधवार को हुआ। बुधवार सुबह भगवान श्रीराम की बारात राजपूत समाज धर्मशाला से राजपूती ठाटबाट के साथ निकली। मंगलवार को जूना श्रीराम मंदिर से श्रीराम के विग्रह को धूमधाम से जेल रोड स्थित भूपेंद्र चौहान के निवास पर ले जाया गया था। जहां से बुधवार को राजपूती ठाटबाट से राजपूत समाज समाज के नेतृत्व भगवान श्रीराम की बारात निकली। पेशवाई पगड़ी, हाथों में धनुष व कटार, आकर्षक श्रृंगार में भगवान का रूप देखते ही बन रहा था। ढोल ताशे, बैंड, घोड़े, भगवा ध्वज बारात की आकर्षण का केंद्र रहे। राजपूत समाज के महिला पुरुष शाही पोशाक में बारात में शामिल थे। नगर के विभिन्ना मार्गों से गुजरते हुए बारात तय समय पर जूना श्रीराम मंदिर पहुची। जहां अभिजीत मुहूर्त में भगवान श्रीराम जानकी का शुभलग्न हुआ। बारात का पुष्पवर्षा से स्वागत किया गया। बारात के आगमन पर वरबेड़ा अद्विका पटवारी ने उठाया। भगवान श्रीराम की कटार से तोरण मार कर मंदिर परिसर में प्रवेश करवाया गया। पं. पंकज मेहता के आचार्यत्व में यजमान सुशीला रामचंद्र पाटीदार व प्राची चैतन्य पटवारी ने भगवान श्रीराम जानकी का गठबंधन कर कन्यादान किया। शुभलग्न के बाद बारात में पधारे समाजजनों को शाही अंदाज में भोजन करवाया गया। फेरे की रस्म, सिंदूर दान, कन्यादान के बाद जानकी माता की बिदाई की रस्म को भी निभाया गया। बिदाई के समय उपस्थित महिलाओं ने माता जानकी के विदाई के गीत गाए।

प्रतिवर्ष मनाया जाएगा महोत्सव

बारात का कलोसिया परिवार, गोपाला मित्र मंडल ने बारात का स्वागत किया। विधायक डा. विजयलक्ष्‌मी साधौ, खरगोन विधायक रवि जोशी, रितेश पाटीदार, महेश पाटीदार, पवन तवर, मनोज शर्मा आदि मौजूद थे। आयोजन के मुख्य सूत्रधार मेहता ने बताया कि अयोध्या में प्रस्तावित भव्य श्रीराम मंदिर परिसर में बने कनक भवन से जो भी आयोजन प्रस्तावित होंगे वे अब नगर के कनक भवन जूना श्रीराम मंदिर में भी आयोजित किए जाएंगे। दीप पर्व उत्सव के बाद श्रीराम जानकी विवाह महोत्सव की परंपरा की सार्थक शुरूआत हुई है। यह अब प्रतिवर्ष भव्य रूप में मनाया जाएगा।

हर्षोल्लास के साथ हुआ श्रीराम जानकी विवाह

-08केएचआर-11-सनावद में श्रीराम मंदिर में आकर्षक श्रृंगार किया गया। -नईदुनिया

सनावद (नईदुनिया न्यूज)। शहर के महात्मा गांधी मार्ग स्थित वैष्णव पंचायती श्रीराम मंदिर में बुधवार को श्रीराम जानकी विवाह हर्षोल्लास के साथ हुआ मंदिर के पुजारी पंडित रमेशचंद्र व्यास ने बताया कि सुबह प्रभात फेरी के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। विप्रजनों ने मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम व माता जानकी का शास्त्रोक्त पूजन अर्चन व पंच द्रव्य से अभिषेक किया। वैदिक मंत्रों के मंगलाचरण के साथ पाणी ग्रहण संस्कार हुआ। भगवान का मनमोहक श्रृंगार पंडित नीरज व्यास ने किया। फूलों, विद्युत सज्जा के साथ केल के पत्तों का मंडप बनाया गया। वरमाला के पश्चात महिलाओं ने सामूहिक रूप से बन्नाा बन्नाी गीत गाए गए। पूजन में पुरुष सफेद पोशाक और महिलाएं पीली पोशाक में उपस्थित थीं। विवाह पद्धति संपन्ना करने के पश्चात भगवान की महाआरती के साथ पारंपरिक खीरान व चना गोष्टी प्रसादी का वितरण किया गया। श्रद्धालुओं द्वारा मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम व माता जानकी के जयघोष किया। रात्रि में श्रीराम मंदिर चितावद की भजन मंडली और हरे राम कीर्तन मंडल मुरली मनोहर बावड़ी मंदिर द्वारा सुमधुर भजनों की प्रस्तुति दी गई। आयोजन में पं. उमाशंकर कानूनगो, पं. गजेंद्र शर्मा, अशोक लाड़, सुरेश एरन, पं. सुशील शर्मा, रोशनी सातले, सुषमा एरन, सीमा चोखड़ा, चंदा चौखड़ा सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे।

श्रीराम परिवार की प्राण प्रतिष्ठा हुई

-08केएचआर-12-खामखेड़ा में महायज्ञ में आहुति डालते हुए श्रद्धालु। -नईदुनिया

कसरावद। ग्राम खामखेड़ा में श्रीराम मंदिर में श्रीराम परिवार की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव हुआ। बुधवार को मंदिर में ध्वज व कलश चढ़ाया गया। श्री रामपरिवार मूर्ति को कपड़े व मुकुट पहनाए गए। मंत्रोच्चार के साथ प्राण प्रतिष्ठा कर महाप्रसादी का वितरण किया गया। आचार्य पं. दीपेश कानूनगो, उपाचार्य रविंद्र शर्मा, गणपति सुजीत गीते, ब्रह्मा शिवदत्त शास्त्री, दृष्टा प्रवीण शर्मा आदि ने महायज्ञ में पूर्णाहुति डाली। भंडारे में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local