खरगोन। ऐतिहासिक धरोहरों पर पर्यटन गतिविधियां के साथ ही स्थानीय कारोबार को बढ़ाने के उद्देश्य से शासन स्तर पर 16 से 30 सितंबर तक स्वच्छता सबका व्यवसायय थीम पर स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम शुरु किया जा रहा है। पखवाड़े के तहत जिले में स्थित पर्यटन स्थलों, स्मारकों पर स्वच्छता से जुड़ी गतिविधियां आयोजित कर आमजन को इन ऐतिहासिक धरोहरों को सहेज कर साफ-स्वच्छ रखने के लिए प्रेरित किया जाएगा। जिला पंचायत सीईओ दिव्यांक सिंह ने बताया पखवाड़े की शुरुआत महेश्वर स्थित किला परिसर एवं अहिल्या घाट से की जाएगी। यहां पर्यटन स्थलों पर प्लास्टिक उपयोग प्रतिबंधित, श्रमदान, जल क्षेत्रों में सफाई, प्लास्टिक बोटल उपयोग नहीं करना, पर्यटन स्थलों पर गुटखा, पान, तंबाकु, धुम्रपान नहीं करना, सिटी वाक, स्वच्छ वार्ड प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, साइकिल रैली आदि का आयोजन किया जाएगा।

तकनीकी सहायक जिला पंचायत नीरज अझमरे ने बताया कि पखवाड़े में पर्यटन स्थलों के टूरिस्ट, गाइड, वाहन चालक, कुली, फोटोग्राफर, होटल व्यवसायी, छात्र-छात्राएं, युथ, होस्टलर, विभिन्ना संगठन के सदस्य, अशासकीय संस्था, वाक लीडर आदि सहयोगियों के माध्यम से विभिन्ना स्वच्छता से संबंधित गतिविधियां संचालित होगी।

स्वच्छता सबका व्यवसाय थीम पर पखवाड़े का आयोजन

खरगोन। भारत सरकार के निर्देशानुसार 16 से 30 सितंबर तक स्वच्छता पखवाड़े का आयोजन किया जाएगा। यह पखवाड़ा स्वच्छता सबका व्यवसाय थीम पर निर्धारित किया गया है। जिसमें स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। स्वच्छता पखवाड़े को लेकर जिला पंचायत सीईओ दिव्यांक सिंह ने निर्देश दिए हैं कि जिले में स्थित पर्यटन स्थलों, स्मारकों पर स्वच्छता पखवाड़े के लिए मार्गदर्शनी कार्रवाई एवं संभावित कार्यक्रमों की रूपरेखा का प्रारूप तैयार करें। साथ ही स्वच्छता पखवाड़ा कार्यक्रम का आयोजन करने के दौरान पर्यटन के विभिन्ना हितधारकों/स्टेकहोल्डर्स की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। कार्यक्रम के आयोजन के लिए स्थानीय संसाधनों की सहायता ली जा सकती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local