खरगोन। नार्मदीय महिला मंडल की सदस्यों ने आजादी के 75वीं वर्षगाठ अमृत महोत्सव अंतर्गत महिला सभा परिसर में हर घर तिरंगा अभियान को लेकर तिरंगा झंडा लहराया।

मंडल की डा. विराज भालके ने तिरंगे का महत्व बताया व जनमानस से एकता अखंडता व सदभावना से रहने की अपील की। इस दौरान तिरंगे की आन बान व शान के लिए सभी उपस्थित सदस्यों ने तिंरगा अभियान की शपथ ली। नार्मदीय महिला मंडल के सभी सदस्य उपस्थित थीं।

' समाज व देश की सेवा में जुटें'

खरगोन। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत शनिवार को औदिच्य ब्राह्मण समाज ने शहर में तिरंगा बाइक रैली

निकाली। टैगोर पार्क स्थित समाज अध्यक्ष सुभाष ठक्कर के निवास पर रैली का समापन हुआ।

पूर्व सैनिक अजय ठक्कर व कमल पाठक का शाल-श्रीफल से सम्मान किया गया। मुख्य अतिथि सुधीर ठक्कर मुंबई ने कहा समाज के साथ ही देश के विकास के लिए एकजुटता जरूरी है। उपाध्यक्ष सुरेंद्र ठक्कर, गोविंद ठक्कर, राजू ठक्कर, मुकेश ठक्कर, संजय ठक्कर,

विश्वनाथ ठक्कर, अरविंद ठक्कर, नीरज ठक्कर, जयंत ठक्कर, नवीन जोशी आदि मौजूद थे।

सस्ता व सुलभ न्याय के लिए 10 और 11 को होगी प्रिसिटिंग

खरगोन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में 13 अगस्त को नेशनल लोक अदालत भी है और शहर में लोकपर्व शिवडोला भी। दोनों कार्य आसानी और सफलतापूर्वक हो इसके लिए न्याययाधीश जीसी मिश्रा ने आम नागरिकों को भक्तों की भीड़ से बचाने और सस्ता व सुलभ न्याय दिलाने के लिए

पक्षकारों के साथ प्रिसिटिंग करने का फैसला लिया है।

शनिवार को प्रेसवार्ता में न्यायाधीश मिश्रा ने कहा कि प्रिसिटिंग 10 और 11 अगस्त को होगी। इसके लिए दो खंडपीठ बनाई गई है। एक खंडपीठ स्वयं न्यायाधीश मिश्रा और एक खंडपीठ सीजेएम पीआर तिवारी देखेंगी। इस प्रिसिटिंग मे जो भी प्रकरण में रेफर है या न्यायालय में लंबित प्रकरण और प्रिलिटिगेशन प्रकरण हर तरह के प्रकरण 10 व 11 में सुनवाई हो जाएगी। न्यायाधीश ने आगे बताया कि इस दौरान पक्षकारों को अपने-अपने प्रकरणों की सुनवाई के बारे में जानकारी मिल जाएगी कि राजीनामा होना है या नहीं होना है। इन दो दिनों में सारी औपचारिकतायें पूरी की जाएगी। लोक अदालत के ऐसे

मामले जिसमे क्लेम होना है या बैंक के माध्यम से राशि जमा करनी है। इसके लिए संबंधित आफिस या बैंक में ही काउंटर बनेंगे। प्रिसिटिंग का समय भी न्यायालय के समय सुबह 10ः30 बजे से शाम पांच बजे तक होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close