नारायणगंज/ मंडला( नईदुनिया प्रतिनिधि)। एक बार फिर रिश्ते के जीजा ने रिश्ते को कलंकित कर दिया है। घटना जिले के नारायणगंज तहसील अंतर्गत टिकटया थाने की है। यहां एक जीजा ने अपने दूर के रिश्ते की साली को न केवल हवस का शिकार बनाया, बल्कि उसे मौत के घाट भी उतार दिया है। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे स्वजनों ने नेशनल हाईवे 30 पर जाम लगा दिया। हालांकि घटना के तुरंत बाद पुलिस ने आरोपित को पकड़ने का दावा पेश किया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान अनिल कुमार को पुत्र नत्तू सिंह मार्को (26) वर्ष निवासी चन्देहरा थाना टिकरिया के रूप में की गई है। पुलिस ने पकड़े गए आरोपित के विरुद्ध रेप व हत्या का मामला पंजीबद्ध कर उसे सलाखों के पीछे कर दिया है।

चार घंटे जाम रहा हाइवे

नाबालिग 14 वर्षीय किशोरी का शव मिलने के बाद गुस्साए स्वजन नेशनल हाईवे 30 को ग्रामीण जनों की मदद से जाम कर दिया मृतका के स्वजनों की मांग थी कि क्षतिपूर्ति के रूप में उन्हें एक करोड़ रुपये की राशि दी जाए। हालांकि मौके पर उपस्थित राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों ने जाम खोलने तथा विधि अनुसार मुआवजा देने की बात कर रहे थे लेकिन स्वजन थे मानने को तैयार नहीं थे।

सूचना पाकर निवास विधायक डा. अशोक मर्सकोले मौके पर पहुंचे उन्होंने पीड़ित पक्ष तथा प्रशासन के बीच मध्यस्थता कर किसी तरह जाम खुलवाने का प्रयास किया। उनके प्रयासों के बाद नेशनल हाइवे का जाम खुल गया व ग्रामीण पीएम कराने को तैयार हो गए। इसके बाद पुलिस ने शव को पीएम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नारायणगंज भेज दिया है। शव का पीएम शुक्रवार की सुबह किया जाएगा।

क्या थी घटना

मिली जानकारी में बताया गया है कि आरोपित गत दिवस स्कूल की छुट्टी होने के बाद बाइक से दो लड़कियों को बैठाकर गांव के लिए रवाना हुआ। यहां उसने एक लड़की को तो गांव में छोड़ दिया जबकि मृतका को साथ में लेकर घूमता रहा। इसके बाद वह नाबालिग को लेकर तालाब के समीप जंगल में पहुंचा। यहां उसने पहले नाबालिक को अपने हवस का शिकार बनाया। बाद में नाबालिग की दुपट्टे से ही उसका गला घोंट दिया। शव को ठिकाने लगाने के बाद वह पुनः गांव पहुंच गया था। हालांकि शाम के समय नाबालिग को बाइक में घूमते समय कुछ लोगों ने उसे देख लिया था।

इस तरह हुई गिरफ्तारी

पुलिस जहां एक तरफ सूचना मिलने के बाद तुरंत आरोपित की गिरफ्तारी का दावा कर रही है जबकि जमीनी हकीकत कुछ अलग है। मिली जानकारी में बताया गया है कि मृतका के स्वजन आरोपित को पकड़कर एक पेड़ में बांधकर मारपीट कर रहे थे। कारण यह था कि गांव के कुछ लोगों ने उन्हें बताया था कि देर शाम उन्होंने आरोपित को अपने मोटरसाइकिल में नाबालिग को बैठाकर घूमते हुए देखा था। इसके कारण स्वजन बार-बार उस पर दबाव डालकर किशोरी का पता पूछ रहे थे। लेकिन आरोपित उन्हें कुछ बता नहीं रहा था इसी बीच किसी ने मारपीट की सूचना पुलिस को दे दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची हंड्रेड डायल ग्रामीणों से युवक को बचा कर थाने ले आई । अभी पुलिस युवक से पूछताछ कर ही रही थी इसी बीच पुलिस को शव मिलने की जानकारी लग गई। शव मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस में सख्ती के साथ युवक से पूछताछ शुरू कर दी युवक ने न केवल अपना गुनाह कबूल कर लिया बल्कि घटना की पूरी कहानी पुलिस को सुना दी।

आक्रोशित हो गए थे ग्रामीण

नेशनल हाईवे पर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को जैसे ही पता चला कि जिस युवक से वह सुबह नाबालिग का पता पूछ रहे थे। उसी ने उसके साथ दुष्कर्म कर उसे मौत के घाट उतारा है तो वहां मौजूद समस्त ग्रामीण आक्रोशित हो गए। वहां मौजूद तकरीबन पांच सैकड़ा लोग एक स्वर में आरोपित को भीड़ के सुपुर्द करने की मांग करने लगे। हालात बिगड़ता देख आसपास के तकरीबन 4 थानों का पुलिस बल मंगाया गया लेकिन फिर भी बात नहीं बनी।

चार घंटे जाम रहा हाईवे

आक्रोशित ग्रामीणों ने मंडला जबलपुर मार्ग 4 घंटे जाम कर रखा रहा। हालांकि देर शाम मौके पर पहुंचे निवास विधायक सहित स्थानीय प्रशासन के समझाइश के बाद ग्रामीण जन मान गए उन्होंने जाम खोल दिया।

आरोपित गिरफ्तार

रिश्ते के जीजा ने नाबालिग किशोरी को पहले हवस का शिकार बनाया। बाद में उसे मौत के घाट उतार दिया है आरोपित को गिरफ्तार किया जा चुका है उसके विरुद्ध मामला दर्ज कर उसे सलाखों के पीछे कर दिया गया है मृतका का पीएम शुक्रवार की सुबह किया जाएगा। - यशपाल सिंह राजपूत पुलिस अधीक्षक मंडला

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close