अंजनिया (नईदुनिया न्यूज)। प्री मैट्रिक बालक छात्रावास अंजनिया में निवासरत बच्चों की सुरक्षा से खिलवा़ड़ किए जाने का मामला सामने आया है। बताया जाता है कि प्री मैट्रिक छात्रावास में अनुसूचित जनजाति वर्ग के कक्षा नवमीं से बारहवीं तक के लगभग 50 छात्र रहते हैं। छात्रावास में गत मंगलवार-बुधवार की मध्यरात्रि दो बाहरी युवकों को छात्रों के साथ भोजन करवाकर उनके साथ ही रुकवा दिया गया। छात्रावास में रोके गए युवकों के बारे में बताया जाता है कि वे भोपाल से आए थे और विभिन्न स्कूलों में जागरूकता के फ्लेक्स लगाने का काम कर रहे हैं।

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार भोपाल से आए दोनों युवक रात भर बच्चों के साथ रहे। इन दोनों युवकों के छात्रावास में रुकने और भोजन करने के संबंध में कोई प्रविष्टि या अनुमति नहीं थी। बताया जाता है कि छात्रावास में दर्ज छात्रों के अलावा छात्रावास स्टाफ ही रात्रि रुक सकता है। अन्य किसी भी व्यक्ति को छात्रावास में रुकने की अनुमति प्रदान नहीं की जा सकती। वहीं जबावदारों द्वारा नियम कानून को ताक में रखकर बिना सुरक्षा जांच के न केवल भोपाल से आए दो युवकों को बच्चों के साथ ही रुकवा दिया गया बल्कि उनके वाहन (छोटा हाथी) (एमपी 20 एलए 3069) को भी छात्रावास परिसर में ख़ड़ा करवा दिया। इस तरह बाहरी व्यक्तियों को छात्रों के साथ छात्रावास में रुकवाने से छात्रों की सुरक्षा को लेकर गंभीर संकट उत्पन्न हो सकता था।वहीं छात्रों की प़ढ़ाई भी प्रभावित हुई।

कार्रवाई होनी चाहिए

बाहरी लोगों को छात्रावासी छात्रों के साथ रोकना बच्चों की सुरक्षा से खिलवा़ड़ है। इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों से पत्राचार किया जा रहा है। कार्रवाई होनी चाहिए।-विनोद पटेल, उपसरपंच एवं सभापति शिक्षा समिति अंजनिया

जांच की जाएगी

मेने आज ही प्रभार संभाला है मुझे इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी।-हेमंत राणा, संकुल प्राचार्य, अंजनियां

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close