मंडला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कौशल विकास एवं व्यावसायिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर हर्षिका सिंह ने जिले में शिक्षित बेरोजगारों के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए संबंधित विभाग समन्वित प्रयास करने कहा।

लक्ष्य पूर्ति तक सीमित न रहते हुए युवाओं की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए कौशल विकास एवं व्यावसायिक प्रशिक्षण के लिए कार्ययोजना बनाई जाए। कलेक्टर ने बताया कि जिले में ऐसे प्रशिक्षण आयोजित किए जाएं जो रोजगार के साथ.साथ युवाओं को सक्षम बनाने में समर्थ्‌य हों।

छात्र.छात्राओं के रूझान का आंकलन करते हुए उन्हें उनकी रूचि के अनुरूप उन्हें व्यवसायिक कार्यक्रमों से जोड़ा जाए। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में संधारित की जाने वाली युवापंजी के संबंध में भी जानकारी ली। उन्होंने कैरियर काऊंसलिंग, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी, रोजगार मेला आदि के संबंध में भी संबंधित अधिकारियों से विस्तार से चर्चा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने प्रशिक्षणों के लिए स्थानीय स्तर पर मास्टर ट्रेनर्स चिन्हित किए जाने जिला रोजगार अधिकारी को रोजगार कार्यालय में पंजीकृत दिव्यांग युवाओं की जानकारी संकलित कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने छात्र.छात्राओं को कम्प्यूटर की आधारभूत शिक्षाए स्पोकन इग्लिश आदि के संबंध में प्रशिक्षण मॉड्यूल तैयार करने के निर्देश दिए।

जिला रोजगार अधिकारी को निर्देशित किया कि सफलता की कहानियों को संकलित कर उनका प्रचार प्रसार किया जाए जिससे अन्य लोगों को कौशल विकास एवं व्यावसायिक प्रशिक्षणों से जुड़ने के लिए प्रेरित किया जा सके।

बैठक में प्राचार्य पॉलीटेक्निक आरके परोहा, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विजय तेकाम, जिला रोजगार अधिकारी एलएस सैयाम, जिला उद्योग एवं व्यापार अधिकारी दिनेश मर्सकोले सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020