मंडला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शुक्रवार सुबह से आसमान में बादल छाए रहे। सूर्यदेव के दर्शन भी नहीं हुए। इससे जहां मौसम ठंडा हो गया। वहीं बारिश की संभावना भी रही। किसान चिंता में है कि बारिश हो सकती है। वे अभी गेहूं की बोआई कर रहे है। वर्षा से बोआई कार्य मे बाधा आएगी, वहीं अधिक बारिश आने पर बोए गेहूं बीज के सड़ने की संभावना भी बन जाएगी। दिनभर बादल छाए रहे, बीच में कुछ देर जरूर सूर्यदेव ने दर्शन दिए। पर जो बादलों के पीछे दोबारा छिपे तो फिर बाहर नहीं आए।

धान खरीदी कार्य भी प्रभावित रहीः मौसम अचानक बदलने से खेती किसानी कार्य तो प्रभावित हो ही रहा है। शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू की गई है। वह भी प्रभावित रही। जिन केंद्रों में धान लेकर किसान पहुंच रहे है, वे भी धान तुलाई नहीं हो सकी। सुबह से धान लेकर जहां किसान पहुंच गए थे वहीं खरीदी केंद्र में भी प्रभारी मौसम को देखते हुए खरीदी को लेकर अनिर्णय की स्थिति में रहे। किसान जहां अपनी धान तुलाना चाह रहे थे वहीं खरीदी केंद्र प्रभारी मौसम को देखते हुए रिस्क नहीं लेना चाह रहे थ्ज्ञे। इस कारण अधिकांश खरीदी केंद्रों में धान खरीदी नहीं की गई।

हो सकती है बारिशः सुबह से मौसम खराब रहा। दिनभर बारिश की संभावना बनी रही। बादल छाए रहने के बावजूद ठंडक वातावरण में अधिक थी। कयास लगाए जा रहे हैं कि बादल छंटने के बाद और ठंड बढ़ेगी। इस बीच कई बार ऐसा लगा कि अब बारिश हो सकती है। लेकिन बारिश नहीं हुई। पर जब तक बादल छंट नहीं जाते हैं। तब तक बारिश की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। किसानों का कहना था कि अभी धान कटाई व गहाई का काम चल रहा है। वहीं गेहूं बीज बोनी भी चल रही है। बारिश होने से पूरा काम ठप पड़ जाएगा। वहीं नुकसान भी हो सकती है।

सूने रहे खरीदी केंद्रः मौसम को देखते हुए खरीदी केंद्र में धान तुलाई नहीं की गई । जो खरीदी केंद्र में धान रखी गई थी। उन्हें जरूर सुरक्षा प्रदान करते हुए पोलीथिन,तिरपाल से ढक दिया गया था। जब तक बारिश की आशंका बनी रहेगी। खरीदी प्रभावित रहेगी। किसान भी अब पूछताछ के बाद ही अपनी उपज बेचने खरीदी केंद्र ले जाएंगे। किसानों का कहना था कि इससे अच्छा तो हम फसल लेकर ही नहीं आते। अधिकांश खरीदी केंद्र सूने रहे।

न्यूनततम, अधिकतम दोनों तापमान में आई गिरावटः दो दिनों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। गुरूवार को जहां अधिकतम तापमान 28 डिसे दर्ज किया गया था। वहीं शुक्रवार को अधिकतम तापमान दो डिसे गिरा और 26डिसे दर्ज किया गया।

इसी तरह न्यूनतम तापमान में मामूली कमी आई है। गुरूवार को 8 डिसे थे जो लुड़क कर 7.6 पर आ गया। मौसम विभाग के अनुसार गतवर्ष से मौसम इस समय गर्म है। उतनी अधिक ठंड नहीं पड़ रही है। गतवर्ष 5 से 6 डिसे के लगभग न्यूनतम तापमान चल रहा था।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस