मंडला। नईदुनिया प्रतिनिधि

आधार कार्ड अपडेट के नाम पर जिले में लोग ठगे जा रहे हैं। सचिव आलोक इकाई मंडला बालसिंह ठाकुर ने आरोप लगाया कि आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले की भोली भाली गरीब जनता को जानकारों (कियोस्क संचालकों) के द्वारा आधार कार्ड अपडेट करने के नाम पर ठगा जा रहा है। एक आधार कार्ड के दो सौ से ढाई सौ रुपये तक वसूले जा रहे हैं। कियोस्क संचालकों के द्वारा आधार कार्ड के नाम पर पैसे जमा करवा कर ग्राहकों को फार्म और पुराना आधार कार्ड देकर बैंक भेज जा रहा है, बैंकों में उनकी पहले से सेटिंग रहती है। बताया जाता है कि इसमें भी कमीशन का खेल चल रहा है। शासन द्वारा बैंक एवं पोस्ट आफिसों को आधार कार्ड के लिए अधिकृत किया गया है जिसका कोई प्रचार प्रसार नही होने से लोगों को जानकारी का अभाव के कारण लोग ठगे जा रहे हैं । सचिव ने बताया कि सीधे बैंक में संपर्क करने से ग्राहकों को भगा दिया जाता है और कियोस्क संचालकों के माध्यम से जाने पर आधार कार्ड का काम हो जाता है । आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले की व्यवस्था कब पटरी पर आएगी । हर स्तर पर गरीबों को ठगा जाता है। विगत दो वर्ष पहले जिले में अवैध टिकिट बुकिंग जैसी अन्य गतिविधियों का संचालन जोरों से चल रहा था अब आधार कार्ड के नाम पर लोग ठगे जा रहे हैं। जिला प्रशासन के द्वारा कियोस्क संचालकों के यहां अचानक छापामार कार्यवाही कर अंकुश लगाने की मांग की गई है। सचिव ने बताया कि सीधे बैंक में संपर्क करने से ग्राहकों को भगा दिया जाता है और कियोस्क संचालकों के माध्यम से जाने पर आधार कार्ड का काम हो जाता है ।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags