मंडला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आजीविका समूह की दीदीयों के द्वारा कोरोना जागरूकता किया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण लोगों को जीवन जीने का तरीका ही समझ नहीं आ रहा है। उन्हें किस तरह वर्तमान परिस्थितियों में रहना है वह आजीविका समूह की दीदीयां गांवों में जाकर बता रही हैं। समाज में जागरूक करने आजीविका मिशन कर्मी व समूह की महिलाओं को प्रशिक्षित किया गया है। समूह की दीदीयों के द्वारा ग्रामीण महिलाओं को विभिन्ना तरीके जैसे मास्क पहनना,सेनेटाईजर का उपयोग,बार-बार साबुन से हाथ धोना,उचित दूरी बनाकर रहना,अनावश्यक आवागमन से बचना,टीकाकरण करवाना इत्यादि जानकारी देकर जागरूक किया जा रहा है। जनपद मंडला के अंतर्गत 81 पंचायतों में गठित 1570 महिला स्वसहायता समूहों ओर 135 ग्राम संगठनों की महिलाओं द्वारा कोरोना के खिलाफ युद्ध में प्रशासन का हर संभव सहयोग के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

समूह की दीदीयों के द्वारा ग्रामीण महिलाओं को विभिन्ना तरीके जैसे मास्क पहनना,सेनेटाईजर का उपयोग,बार-बार साबुन से हाथ धोना,उचित दूरी बनाकर रहना,अनावश्यक आवागमन से बचना,टीकाकरण करवाना इत्यादि जानकारी देकर जागरूक किया जा रहा है। जनपद मंडला के अंतर्गत 81 पंचायतों में गठित 1570 महिला स्वसहायता समूहों ओर 135 ग्राम संगठनों की महिलाओं द्वारा कोरोना के खिलाफ युद्ध में प्रशासन का हर संभव सहयोग के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

आजीविका समूह की दीदीयों के द्वारा कोरोना जागरूकता किया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण लोगों को जीवन जीने का तरीका ही समझ नहीं आ रहा है। उन्हें किस तरह वर्तमान परिस्थितियों में रहना है वह आजीविका समूह की दीदीयां गांवों में जाकर बता रही हैं। समाज में जागरूक करने आजीविका मिशन कर्मी व समूह की महिलाओं को प्रशिक्षित किया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags