मंडला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ श्रीनाथ सिंह ने बताया कि कोविड-19 के रोगियों की शीघ्र पहचान व त्वरित उपचार के उद्देश्य से किल कोरोना-2 अभियान प्रारंभ किया गया था। अब प्रदेश में अधिकाधिक जनसंख्या तक स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के उद्देश्य से शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में किल कोरोना-3 अभियान 7 मई से प्रारंभ किया गया है जो 25 मई तक जारी रहेगा। इस अभियान के तहत महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, पंचायत ग्रामीण विकास व नगरीय विकास विभाग के अमले द्वारा गतिविधियां की जाएगी। इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में गृहभेंट कर स्क्रीनिंग करेगी तथा सर्दी, खांसी, जुकाम के रोगियों को चिन्हित करेंगे। स्वास्थ्य व महिला बाल विकास विभाग के कर्मचारियों के दलों द्वारा 1 दिन में लगभग 100 घरों में संपर्क किया जा रहा है। इन दलों के अलावा सुपरवाइजर्स के दल भी तैनात किए गए हैं जो स्वास्थ्य कार्यकतरओं के दलों की मॉनिटरिंग करेंगे। सुपरवाइजर्स के दल को जुकाम, खांसी, बुखार जैसे रोगों से संबंधित उपचार के लिए एन्टीबायोटिक टेबलेट, एन्टी पायरेटिक, एन्टासिड, विटामिन व इम्यूनिटी बूस्टर टेबलेट के साथ साथ सेनेटाइजर, नॉन कांटेक्ट थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर जैसे उपकरण भी दिए गए हैं। सुपरवाइजर्स के दल मरीजों में रोगों के लक्षणों के आधार पर दवाई वितरित करेंगे तथा गोलियां सेवन करने की विधि समझाएंगे। आवश्यकता होने पर कोविड के संभावित रोगियों का टेस्ट फीवर क्लीनिक के माध्यम से कराया जाएगा। कोविड मरीजों को होम क्वारंटाइन रहने की सलाह दी जाएगी तथा यदि घर में जगह नहीं है तो संस्थागत क्वारंटाइन किया जाएगा।

8 मई को 336 टीमों द्वारा 22325 घरों का सर्वे किया गया, जिसमें 106247 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग का कार्य किया। हर टीम को टेंपरेचर पता करने के लिए थर्मल गन दी गई है। टीम द्वारा सभी का टेंपरेचर नापा जा रहा है, सर्दी जुखाम की जानकारी ली जा रही है एवं रजिस्टर में एंट्री की जा रही है, संदिग्ध मरीज एवं पॉजिटिव मरीज नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जांच कराई जा रही है एवं आवश्यकता अनुसार उन्हें उच्च संस्थाओं में रेफर भी किया जा रहा है। 8 मई को 336 टीमों द्वारा 22325 घरों में 106247 व्यक्तियों की जांच की गई। जिसमें 471 संदिग्ध मरीज चिन्हाकिंत किए गए। जिसमें से 30 मरीजों का आरएटी टेस्ट किट से जांच की गई। पॉजीटिव मरीज 1 भी नहीं मिला। 199 सुपरवाइजर टीम द्वारा भी घरों का सर्वे किया गया एवं 234 मरीजों को फीवर क्लीनिक रेफर किया गया। इसी प्रकार सुपरवाइजर टीम द्वारा 611 को दवा किट का वितरण किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags